उ.प्र. में सर्द पछुआ हवाओं के कारण और गिरेगा पारा

0
41

लखनऊ, 16 दिसम्बर । प्रदेश के मौसम में पहाड़ों पर हुई बर्फबारी और उत्तर पछुआ हवाआें का असर साफ देखने को मिल रहा है। हवा के झोंकों की वजह से ठण्ड के तेवरों में इजाफा हुआ है। दिन के तापमान में गिरावट के साथ रात में ठिठुरन भी बढ़ गई है। मौसम विभाग के मुताबिक पहाड़ों से टकराकर वापस लौटती सर्द हवाओं की वजह से गलन महसूस हो रही है।

आने वाले दिनों में सर्दी के तेवर और तीखे होंगे। फिलहाल सामान्य तौर पर मौसम प्रदेश में शुष्क बना रहेगा। दिन में गुनगुनी धूप से लोगों को राहत मिलेगी, लेकिन रात में हवाओं के कारण गलन बढ़ेगी। अगले चौबीस घण्टों में पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मध्यम कोहरे की संभावना है। विभाग के मुताबिक राजधानी और आसपास के क्षेत्रों में अगले चौबीस घण्टों के दौरान आसमान साफ रहेगा। सुबह धुंध और कोहरे का असर दिखाई देगा। वहीं न्यूनतम तापमान 09 डिग्री और अधिकतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस रहने की सम्भावना है।

मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश में शनिवार को आगरा में न्यूनतम तापमान 08 डिग्री व अधिकतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस, अलीगढ़ में न्यूनतम तापमान 07 डिग्री व अधिकतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस और इलाहाबाद में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री व अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

इसके अलावा बहराइच में में न्यूनतम तापमान 06 डिग्री व अधिकतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस, बांदा में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री व अधिकतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस, बरेली में न्यूनतम तापमान 06 डिग्री व अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस, गोरखपुर में न्यूनतम तापमान 09 डिग्री व अधिकतम तापमान 18 डिग्री सेल्सियस और झांसी में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री व अधिकतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

इसके साथ ही कानपुर में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री व अधिकतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस, लखनऊ में न्यूनतम तापमान 09 डिग्री व अधिकतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस, मेरठ में न्यूनतम तापमान 06 डिग्री व अधिकतम तापमान 18 डिग्री सेल्सियस, मुरादाबाद में न्यूनतम तापमान 07 डिग्री व अधिकतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस और वाराणसी में न्यूनतम तापमान 11 डिग्री व अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

विभाग के मुताबिक प्रदेश में बीते चौबीस घण्टों के दौरान पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कुछ हिस्सों में कोहरा प्रभावी रहा,वहीं पूर्वी उत्तर प्रदेश में शीतलहर ने अपना असर दिखाया। मुरादाबाद, गोरखपुर, बरेली, आगरा, और मेरठ डिवीजन में दिन का सामान्य सामान्य से नीचे रहा, जबकि अन्य स्थानों पर सामान्य रहा। प्रदेश में वाराणसी 27.6 डिग्री के साथ सबसे गरम स्थान रहा। वहीं रात में वाराणसी, कानपुर और झांसी डिवीजन में तापमान सामान्य से अधिक रहा। बहराइच 06.0 डिग्री सेल्सियस के साथ सबसे सर्द जगह रही।

मौसम विज्ञानियों के मुताबिक देश में एक ऊपरी हवा प्रणाली के रूप में एक पश्चिमी विक्षोभ अफगानिस्तान और उत्तर पाकिस्तान पर देखा जा सकता है। असम के ऊपर एक निम्न स्तरीय चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। एक और चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पश्चिमी असम और आसपास के भागों में देखा जा सकता है। एक ट्रफ उत्तरी मध्य महाराष्ट्र से गुजरात से होते हुए दक्षिणी राजस्थान तक फैली हुई है।

बीते चौबीस घण्टों के दौरान उत्तरी राजस्थान और आस-पास के इलाकों में घने से बहुत घना कोहरे देखा गया। इस बीच, असम, मेघालय और आसपास के इलाकों में घना कोहरा दिखाई दिया। हरियाणा, पंजाब, जम्मू, दिल्ली और उत्तर पूर्व भारत के शेष हिस्सों पर मध्यम श्रेणी का कोहरा प्रबल हुआ। पंजाब, हरियाणा, पश्चिम राजस्थान और जम्मू और कश्मीर के कुछ हिस्सों पर भारी ठंड की स्थिति देखी गई। तमिलनाडु और केरल के कुछ भागों में कहीं-कहीं हल्की से कुछ स्थानों पर भारी बारिश देखी गई।

अगले चौबीस घण्टों के दौरान उत्तरी भारत में शीत लहर की स्थिति बनी रहेगी कुछ स्थानों पर ठण्डे दिन की स्थिति देखी जा सकती है। पंजाब और हरियाणा में घने कोहरे की संभावना है। इस बीच, हरियाणा, उत्तर राजस्थान और पूर्वोत्तर राज्यों में मध्यम कोहरे की संभावना है। तटीय तमिलनाडु और दक्षिण केरल के कुछ स्थानां पर बारिश हो सकती है। कुछ हिस्सों में भी मध्यम बारिश भी हो सकती है बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल और ओडिशा में न्यूनतम तापमान कम होने की संभावना है। दक्षिण मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात और उत्तरी महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों में आसमान की स्थितियों में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे।

LEAVE A REPLY