दिल्ली के प्रदूषण से बचने के लिए विदेश में रहते हैं पीएम मोदी : राजीव शुक्ला

0
87

कानपुर, 18 नवम्बर । कांग्रेस मेयर प्रत्याशी बंदना मिश्रा का प्रचार करने कानपुर पहुंचे पूर्व केन्द्रीय मंत्री व वरिष्ठ कांग्रेस नेता राजीव शुक्ला भाजपा सरकार पर जमकर भड़ास निकाली। मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि देश की अर्थव्यवस्था पूरी तरह चौपट हो गई है। कांग्रेस की योजनाओं का नाम बदलकर श्रेय लिया जाता है। न तो कोई शहर स्मार्ट हुआ और न ही किसी शहर का प्रदूषण कम हुआ। हालात यह हो गयें है कानपुर दिल्ली को पछाड़ सबसे अधिक प्रदूषित वाला शहर बन गया है। कमेंट कसते हुए कहा कि दिल्ली के प्रदूषण से बचने के लिए पीएम मोदी अक्सर विदेशी दौरे पर रहते हैं। इसका खुलासा आरटीआई में भी हो गया है कि सबसे ज्यादा विदेशी दौरे करने वाले पीएम मोदी बन गये हैं।  

उन्होंने कहा कि यूपी निकाय चुनाव में जो रिपोर्ट आ रही है व पार्टी के पक्ष में है, जिससे नई आशा जगी है और यह कहा जा सकता है कि कांग्रेस यूपी में वापसी कर रही है। कहा कि इसकी दो वजह हैं। एक तो केन्द्र की मोदी व प्रदेश की योगी सरकार के चलते सारे विकास कार्य ठप पड़ गयें है। लोगों को रोजगार नहीं मिल पा रहा है, किसानों को फसलों का उचित दाम नहीं मिल पा रहा है। जनता भुखमरी की कगार पर पहुंच गई है। दूसरा कांग्रेस उपाध्यक्ष द्वारा लगातार जनता के हित में सक्रिय रहना। इसी के चलते इन दिनों सोशल मीडिया में लोग खूब लिख रहें है कि हमें नहीं चाहिए अच्छे दिन हमारे पुराने दिन लौटा दिये जायें। कहा कि कहीं कोई सुधार नहीं हुआ स्थितियां बद से बदतर होती जा रहीं है। जो पहले विकास होता था वह भी बंद हो गया। लोगों का भरोसा टूट रहा है और अब भाजपा की लच्छेदार बातों पर हसी उड़ाई जा रही है। वार्ता के दौरान महानगर अध्यक्ष हरप्रकाश अग्निहोत्री, संजीव दरियाबादी, के.के. तिवारी, नव तिवारी, महेन्द्र सिंह आदि मौजूद रहें। 
विदेशी सर्टिफिकेट का लिया जा रहा सहारा
पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने केन्द्र सरकार के उन बयानों को निराधार बताया जिसमें कहा गया था कि जीडीपी दर की स्थिति में सुधार हो रहा है। कहा कि जब पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को विदेशी एजेंसिया जीडीपी की रिपोर्ट देती थी तो कहा जाता था कि यह गलत है। लेकिन अब जीडीपी के लिए विदेशी सर्टिफिकेट लिया जा रहा है। क्योंकि भारत की कोई भी एजेंसी इनके मुताबिक जीडीपी दर बता नहीं पा रही है। विश्व बैंक के सर्टिफिकेट का क्या मतलब है। यह लोग कहते हैं कि जीडीपी बढ़ी हुई है जबकि कांग्रेस सरकार से नीचे जा चुकी है। कहा कि जीडीपी में वृद्धि के लिए निर्यात प्रमुख होता है, रोजगार व उद्योग धंधों की स्थित देखी जाती है। इन सभी में भारी गिरावट है बेरोजगारी के चलते लोग भुखमरी के कगार पर पहुंच गये है। 
जीएसटी में जारी हुए डेढ़ सौ से अधिक सर्कुलर
जीएसटी पर कहा कि कांग्रेस 18 फीसदी के साथ जीएसटी लागू कर रही थी तो इन लोगां ने हाय तौबा मचा दिया। जब केन्द्र में इनकी सरकार आई तो 28 फीसदी के साथ जीएसटी लागू कर दी गई। इसके लिए हम लोगों ने डेढ़ माह तक विरोध किया लेकिन फिर भी लागू कर दिया। इसलिए 28 फीसदी के साथ लागू की गई क्योंकि कांग्रेस इसका विरोध कर रही थी। इन लोगों को जनता की तकलीफों से मतलब नहीं है इनका तो एक ही सिद्धांत है कि जो कांग्रेस कहेगी उससे उल्टा करना है। लेकिन अन्ततः काम वही करेंगे। हुआ भी वही डेढ़ सौ सर्कुलर जारी करने के बाद ज्यादातर उत्पादों में 18 फीसदी कर दिया गया। लेकिन जनता को परेशान करने के अपने मकसद को पूरा कर लिया। 
कांग्रेस की योजनाओं बदल जा रहा है नाम
कांग्रेस ने जनता के हितों के चलाई तमाम योजनाओं को चलाया, जिसका इन लोगां ने विरोध किया और सत्ता में आते ही इन्ही योजनाओं का नाम बदलकर चलाया जा रहा है। पहले आधार कार्ड को राष्ट्रविरोधी करार दिया गया और आज हर काम आधार कार्ड से किया जा रहा है। निर्मल भारत को स्वच्छ भारत बना दिया गया लेकिन जमीनी स्तर पर काम कुछ नहीं हो रहा है। 
भाषण विज्ञापन इनका आधार
कहा कि भारतीय जनता पार्टी का इतिहास रहा है कि काम कुछ नहीं करेंगे केवल भाषण देंगे। जब से मोदी जी कमान संभाल ली तो अब विज्ञापन को भी इसमें शामिल कर लिया गया है। इन लोगों को जुमलेबाजी के अलावा कुछ नहीं आता है, इसीलिए लोग अब कहने लगे हैं कि हमें अच्छे दिन नहीं चाहिए और हमारे पुराने दिन लौटा दिये जायें।
कोर्ट का फैसला होगा मान्य
अयोध्या मामले में श्रीश्री रविशंकर की मध्यस्था के सवाल पर पहले तो कन्नी काट लिया फिर कहा कि अदालत का जो फैसला होगा वही मान्य होगा। श्रीश्री पर कोई कमेंट नहीं किया पर भाजपा के लिए कहा कि यह लोग 27 साल से अयोध्या में मंदिर बनवा रहें है। जब चुनाव आता है तो मंदिर की बात करेंगे ज्यों ही चुनाव खत्म मंदिर की बात खत्म। क्या इसके पहले इनकी सरकार नहीं थी। केन्द्र व प्रदेश में सरकार रहने के बाद भी इन्होंने मंदिर पर कुछ नहीं किया, प्रदेश में तो इनकी तीन बार सरकार बन चुकी है। 

LEAVE A REPLY