मतदान के दौरान गड़बड़ी के चलते कानपुर में बदली गई 97 ईवीएम मशीनें

0
578

कानपुर, 22 नवम्बर । नगर निकाय चुनाव में मतदान के दौरान सुबह से ही छुटपुट समस्याओं की सूचनाएं आने लगीं। आधा दर्जन केन्द्रों पर एक ही पार्टी पर वोट जाने की शिकायत को लेकर प्रत्याशियों व उनके समर्थकों ने हंगामा किया। यहां पर गड़बड़ी की शिकायतों पर सबसे ज्यादा 97 ईवीएम मशीनों को बदला गया। 

जिला निर्वाचन अधिकारी सुरेंद्र सिंह मुताबिक कुल 97 ईवीएम खराब होने के मामले सामने आए हैं। इन्हें तत्काल बदलते हुए मतदान में व्यवधान नहीं आने दिया गया। ईवीएम खराब होने से कुछ जगह मतदान प्रभावित हुआ। लेकिन समय रहते उन्हें सुधार लिया गया। जिन केन्द्रों पर हंगामा हुआ वहां पर मौके पर पहुंची पुलिस भीड़ को समझा-बुझाकर शांत कराया। इस दौरान कई जगहों पर पुलिस को लाठी भी चटकानी पड़ी। 
बटन कोई भी दबाओ वोट एक पार्टी को 
जेके कालोनी के बाल निकेतन स्कूल मतदान केन्द्र में ईवीएम में आई खराबी को लेकर मतदान को पहुंचे लोगों ने जमकर हंगामा काटा। इसी तरह वार्ड 63 के राजीव नगर स्थित विंदेश्वरी इंटर कॉलेज और उससे थोड़ी दूर मछरिया गढ़ी के मछरिया प्राथमिक विद्यालय में मतदाताओं ने हंगामा काटा। यहां आए मतदाताओं को आरोप था कि ईवीएम मशीन का बटन कोई भी दबाओ वोट एक ही पार्टी को जा रहा है। इसको लेकर दोनों मतदान केंद्रों पर लोगों ने नारेबाजी कर हंगामा करना शुरू कर दिया। हंगामे के चलते लगभग एक घंटे तक मतदान रोका रहा। एसओ नौबस्ता मनोज रघुवंशी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने भीड़ को समझाने की कोशिश की। भीड़ के न मानने पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर उन्हें तितर-बितर किया। जिसके बाद यहां पर स्थिति सामान्य हो सकी।

बम्बईया हाता धर्मशाला और हर्ष नगर पेट्रोल पंप के पास भी भीड़ ने हंगामा किया। मौजूद लोगों का आरोप था कि बटन कोई भी दबाया जाए वोट एक ही पार्टी को जा रहा है। मतदान प्रक्रिया के दौरान बम्बईया हाता में एक घंटे के लिए मतदान रूका रहा। मौके पर पहुंचे प्रशासनिक अफसरों ने पीठासीन अधिकारी से भी पूछताछ की गई। इधर हर्ष नगर में हंगामा कर रहे लोगों को दिमाग डायवर्ट करने के लिए पुलिस ने पर्चियों को आधार बनाया और पर्चे वाला कार्टन ही जब्त कर लिया। 
मतदान तो होगा आप लिखित में शिकायत करें 
पशुपति नगर स्थित आर्यावर्त इंटर कालेज में वोट डालने गए कई लोगों के नाम कटे हुए थे। जिससे वह वोट नहीं डाल सके। इसके अलावा ईवीएम मशीन खराब निकली। इस बात को लेकर प्रत्याशी रश्मि तिवारी, उनके पति सरन तिवारी और काजल किरन ने हंगामा करते हुए मतदान रुकवा दिया। सूचना पर एडीएम सिटी धर्मेन्द्र सिंह फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने लोगों को समझाने की कोशिश की मगर गुस्साई भीड़ मानने को तैयार नहीं हुई। माहौल खराब होता देख जिला निर्वाचन अधिकारी सुरेन्द्र सिंह, एसएसपी अखिलेश कुमार मीणा भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। 


डीएम ने मतदान के दौरान अराजकता फैलाने वालों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि मतदान तो होगा ही। आपको अगर शिकायत करनी है तो लिखित में चुनाव आयोग को करें। उन्होंने कहा, अगर आप नहीं मानेंगे तो कड़े कदम उठाने पर हम मजबूर हो जाएंगे। उनका गुस्सा भांपकर लोग शांत हो गये और मतदान फिर से जारी हुआ। 

LEAVE A REPLY