कानपुर:अपराध नियंत्रण करने में जुटी डीआईजी, दो थाना प्रभारी लाइन हाजिर

0
680

-एक दर्जन से अधिक के कार्यक्षेत्र बदले, लाइन से कई को मिली थानों की जिम्मेदारी
कानपुर, 30 मई । जनपद में अपराधियों पर नकेल कसने के साथ-साथ वारदातों के खुलासा करने में नाकाम दो इंस्पेक्टर को लाइन हाजिर कर दिया गया। कानून व्यवस्था को दुरूस्त करने की कवायद में डीआईजी ने डेढ़ दर्जन थाना प्रभारियों के कार्यक्षेत्रों में बदलाव करते हुए हिदायत के साथ नई जिम्मेदारी सौंपी गई है। 
 डीआईजी सोनिया सिंह ने जनपद की बिगड़ती कानून व्यवस्था को दुरूस्त करने की कवायद शुरू कर दी है। बढ़ती लूट, चोरी, छेड़छाड़, हत्या सहित अन्य आपराधिक वारदातों पर लगाम लगाने को लेकर डीआईजी से सख्त तेवर अपनाते हुए बर्रा थाना प्रभारी गिरजेश कुमार तिवारी व फीलखाना इंस्पेक्टर मदन गोपाल गुप्ता को लाइन हाजिर कर दिया। इसके साथ ही डेढ़ दर्जन थाना प्रभारियों के कार्यक्षेत्र बदल दिये। हरबंश मोहाल प्रभारी निरीक्षक सुनील कुमार सिंह को फजलगंज, अमित कुमार सिंह को रेलबाजार से प्रभारी निरीक्षक को घाटमपुर, इंस्पेक्टर संतोष कुमार सिंह को ग्वालटोली से रेलबाजार, इंस्पेक्टर एम.एम. चौहान को फजलगंज से नौबस्ता, इंस्पेक्टर विष्णु कौशिक को रायपुरवा से हरबंश मोहाल,

 इंस्पेक्टर राजवर्धन गौड़ को गोविन्द नगर से कल्याणपुर, कल्याणपुर इंस्पेक्टर रण बहादुर सिंह को गोविन्द नगर, मूलगंज इंस्पेक्टर अजय नारायण सिंह को बेकनगंज, पुलिस लाइन से देवेन्द्र सिंह को प्रभारी निरीक्षक छावनी, लाइन से संजय कुमार मिश्रा को इंस्पेक्टर रायपुरवा, उप निरीक्षक कृष्णा लाल पटेल को थानाध्यक्ष फीलखाना, प्रदीप कुमार सिंह को चमनगंज से थानाध्यक्ष बर्रा, सतेन्द्र सिंह भदौरिया मूलगंज से थानाध्यक्ष मूलगंज, चौकी प्रभारी देहली सुजानपुर चकेरी को अजय प्रताप सिंह को थानाध्यक्ष काकादेव, बिठूर एसओ अशोक कुमार सिंह प्रभारी डीसीआरबी, उप निरीक्षक नौबस्ता संतोष कुमार त्रिपाठी को थानाध्यक्ष ग्वालटोली व नौबस्ता चौकी से धीरेन्द्र सिंह चौहान को बिठूर एसओ बनाया गया है।

 कार्यक्षेत्र में फेरबदल के साथ डीआईजी ने मातहत पुलिस कर्मियों को ताकीद दी है कि लॉ एंड आर्डर को कायम करना पुलिस की प्राथमिकता है।


 अपराधियों पर सख्त कार्रवाई कर जनता में विश्वास पैदा करें और महिलाओं को सुरक्षित माहौल दें। लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कार्यशैली में लापरवाही मिलने पर पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई होगी।

LEAVE A REPLY