​कानपुर  के दीपांकर ने मुम्बई में मचाया धमाल

0
279

कानपुर : यदि सपने को पूरा करने के लिए पूरी इमानदारी से मेहनत की जाय तो उसके परिणाम सभा सुखद ही आते है। ऐसे ही कानपुर के एक युवक ने मुम्बई जाने का सपना संजोया और अपनी मेहनत के बल पर वह मिस्टर व मिस इण्डिया काॅनटेस्ट में जा पहुंचा। इतना ही नही समेफाइन जीत कर उसने कानपुर का नाम रोशन किया। फाइनल राउण्ड के चार चरणो को भी उसने पार कर लिया लेकिन यही पर उसका सफर समाप्त हो गया। हलांकि वह बेहद उत्साहित है और अपनी सफलता का पूरा श्रेय अपनी मेहनत, मां का आर्शीवाद और अपने दोस्तो के सहायोग को देता है।

एक कार्यक्रम के दौरान उददेश्य चैधरी उर्फ दींपाकर ने बताया कि उसके पिता संतोष कुमार चैधरी का स्वर्गवास हो चुका है तथा वह तथा उसकी मां ऊषा देवी तथा भाई राहुल रहते है। कहा कि आर्थिक स्थिति अच्छी न होने के कारण उसने डांस सिखाने के लिए होम ट्यूशन देना शुरू किया। 2016 में मिस्टर यूपी के लिए उसने आॅडीशन दिया तथा 12 लडको में सलेक्ट हुआ, जिसका अभी फाईनल होना बांकी है। इसी प्रकार अप्रैल माह में होटल लैण्ड मार्क में मिस्टर इण्डिया में आडीशन दिया और चुना गया। बताया कि पैसो की कमी उसके लिए बाधा थी लेकिन किसी प्रकार सब अरेंज होता गया और मुम्बई पहुंच गया। उत्साहित दीपांकर बताते है कि ग्वालटोली निवासी डा0 हुसैन के बेटे अली मोहसिन जो मुम्बइ में है उन्होने उसकी बहुत मदद की। चूंकि वह पहले से वहंा थे तो उन्होने मुझे हर प्रकार से गाइड किया, रैंप वाॅक, स्टेज पर परफाॅर्मेस करने का तरीका बताया।

दीपाकंर ने कहा कि उन्होने सेमीफाइनम पार कर लिया लेकिन फाइनल के पांचवे राउण्ड में वह बाहर हो गये। कहा कि उन्हे इसका कोई अफसोस नही है। वह बहुत उत्साहित है और पुनः प्रयास करेेगे। वह पैंटालूम विनर्स भी रहे है। अंत में उन्होने अपनी मां की दुआओ तथा अपने सहयोगियों का आभार प्रकट किया।

LEAVE A REPLY