कानपुर: नौबस्ता थाने  के बाहर युवक की गोली मारकर हत्या 

0
1458

दीपक मिश्रा
वर्ल्ड खबर एक्सप्रेस

कानपुर : योगीराज के कुछ दिन एक्शन में रहने के बाद कानून व्यवस्था फिर से बुरी तरह ध्वस्त नजर आती दिख रही है .अपराधी बेख़ौफ़ और बेलगाम हो चुके है, इसको दुस्साहस कहे या फिर किसी पहुँच का नतीजा कि नौबस्ता थाना परिसर के ठीक बाहर एक युवक को सीने में गोली मारकर मौत की नींद सुला दिया गया .

तपेश कुमार वर्मा पुत्र अमरनाथ वर्मा निवासी योगेंद्र विहार नौबस्ता का रहने वाला है और  कल 11 बजे वो नौबस्ता थाने अपनी जान की सुरक्षा के लिए पुलिस के पास फरियाद लेकर पहुंचा था उसे क्या पता की जहां पर वो अपनी सुरक्षा के लिए जा रहा है वहीं पर उसे मौत मिलेगी । शनिवार रात 11.45 पर जैसे ही वो नौबस्ता थाने से बाहर निकला पहले से घात लगाये बैठे हत्यारे ने तपेश के सीने में गोली मार दी . गोली लगते ही तपेश जमीन पर गिर पड़ा और  तपड़ने लगा . गोली चलने की आवाज सुनकर मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मी व् इलाकाई लोगों ने घायल को आनन फानन अस्पताल ले जाने लगे लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गयी . उधर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है

हत्यारा संजीव सिंह निवासी गल्ला मंडी,नौबस्ता पिछले कुछ दिनों से मृतक तपेश के साथ गाली गलौच व् जान से मारने की धमकी दे रहा था।खतरे को भांपते हुए तपेश संजीव के खिलाफ तहरीर देने थाने आया था।तभी ठीक थाने के सामने आरोपी संजीव ने तपेश के सीने में गोली मार दी।जिससे अस्पताल ले जाते समय रास्ते में ही उसकी मौत हो गयी।
आखिर इतना दुस्साहस कैसे हुआ हमलावर का कि थाने के ठीक बाहर ही गोली मार दी। अगर नौबस्ता थाना अपने थाना परिसर के आस पास ही अपराध नियंत्रित नहीं कर पाया तो बाकीं क्षेत्र जो थाना परिसर से दूरी पर है वहां आम जनता कैसे सुरक्षित है।

सीधी सी बात जो समझ में आती है कि पकड़ा गया हमलावर या तो दुस्साहसिक है और उसे किसी का कोई भय नहीं है या फिर किसी का ऐसा वरदहस्त है जो उसके दिमाग में है कि कोई मेरा कुछ नहीं कर सकता।
आरोपी संजीव सिंह ने हत्या की वजह 15 लाख रुपये का लेनदेन बताया है।संजीव के अनुसार उसे तपेश से 15 लाख रूपये लेने थे और वो देने में आनाकानी कर रहा था

LEAVE A REPLY