कानपुर :2019 में अंतिम बादशाह साबित होगें पीएम मोदी : प्रमोद तिवारी 

0
86

कानपुर, 19 नवम्बर । केन्द्र की मोदी सरकार करीब साढ़े तीन वर्ष का कार्यकाल पूरा कर लिया है, लेकिन जितने वादे चुनाव के पहले किये गये थे कोई भी पूरा नहीं किया गया। बेरोजगारी चरम पर है और महंगाई से लोग भुखमरी के कगार पर पहुंच गये हैं। जिससे जनता एक बार फिर कांग्रेस पर विश्वास जताना शुरू कर दिया है। जिसका जीता जागता उदाहरण चित्रकूट विधानसभा का उपचुनाव है। देश की जनता केन्द्र सरकार से बेहद नाखुश है जिससे यह तय है कि 2019 में पीएम मोदी अंतिम बादशाह साबित होंगे। यह बात कांग्रेस के राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी ने कानपुर में मीडिया से मुखातिब होते कही। 

उन्होंने कहा कि भारतीय संसदीय इतिहास में पहली बार भारत की संसद का शीतकालीन सत्र टाला जा रहा है। सामान्यतः संसद का शीतकालीन सत्र नवम्बर माह के तीसरे सप्ताह से प्रारंभ होकर दिसम्बर के तीसरे सप्ताह तक चलता है। परन्तु 19 नवम्बर तक लोकसभा एवं राज्यसभा सचिवालय ने इसकी तिथि निर्धारित करना तो दूर उसकी अधिसूचना तक नहीं जारी है। कहा, भारत फ्रांस रक्षा सौदे पर राफेल युद्धक विमान खरीदने में हुई अनियमितता एवं भ्रष्टाचार के कारण केन्द्र सरकार डरी हुई है और वह नहीं चाहती कि गुजरात चुनाव के पहले संसद में इस पर चर्चा हो। जिससे राफेल युद्धक विमान खरीद में हुए भ्रष्टाचार एवं अनियमितता की कहानी से गुजरात में भारतीय जनता पार्टी के उखड़ते जनाधार को और भी धूमिल कर दें। 
कहा कि भाजपा गुजरात चुनाव में बड़ी हार से बचना चाहती है, लेकिन ऐसा नहीं होगा वहां की जनता ने मन बना लिया कि अबकी बार झूठा वादा करने वालों को बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा। केन्द्र सरकार साढ़े तीन वर्षां में जनता के लिए कुछ भी नहीं किया। उल्टा नोटबंदी व जीसएसटी से परेशान जरूर कर दिया गया। जबकि विरोध के बाद वही काम हुआ और करीब 150 सर्कुलर जारी कर दो तिहाई वस्तुओं 18 फीसदी जीएसटी कर दी गई। व्यापारी वर्ग जीएसटी से पूरी तरह से नाराज है। बेरोजगारी चरम पर है और विकास पूरी तरह से ठप है। जिसके चलते जनता में एक बार फिर कांग्रेस के प्रति विश्वास बढ़ा है और सभी परंपरागत कांग्रेसी पार्टी की ओर लौट रहें है। 2019 के बाद मोदी का नाम अंतिम बादशाह के रूप में इतिहास में दर्ज हो जाएगा। 
नगर निकाय में कांग्रेस की होगी जीत
कांग्रेस मेयर प्रत्याशी बंदना मिश्रा के पक्ष में प्रचार करने आए प्रमोद तिवारी ने कहा कि जनता का रूझान बयां कर रहा है कि उत्तर प्रदेश नगर निकाय चुनाव में कांग्रेस की बड़ी जीत होगी। जब पूछा गया कि यहां पर किन पार्टियों के बीच लड़ाई है तो कहा कि कांग्रेस और भाजपा की लड़ाई तो होगी पर जीत कांग्रेस की होगी। सपा के सवाल पर नो कमेंट कहकर कुछ बोलने से मना कर दिया। अयोध्या मंदिर मामले पर कहा कि जब भी भाजपा संकट में होती है तो राम का सहारा लेती है और काम होते ही राम को भूल जाती है। 
कारखाने बंद फिर भी प्रदूषण में कानपुर अव्वल
कहा कि प्रदूषण के आंकड़ों को पढ़कर दुख होता है कि कानपुर उत्तर भारत का सबसे प्रदूषित शहर हो गया। जबकि कानपुर के कारखाने ज्यादातर बंद हो गये हैं। कानपुर के प्रदूषण के लिए केन्द्र सरकार, प्रदेश सरकार एवं कानपुर नगर निगम दोषी है। इन तीनों ही स्थानों पर भारतीय जनता पार्टी का कब्जा है। कानपुर नगर निगम यहां के निवासियों को प्रदूषित एवं जहरीली हवा दे रहा है।

LEAVE A REPLY