कानपुर :व्यापारियों ने पीएम मोदी से कही मन की बात, रेजगारी हम कहा चलाये 

0
746

कानपुर, 12 अक्टूबर।  कानपुर में एक तरफ प्रदेश कार्यसमिति की बैठक चल रही है, वहीं शहर में व्यापारियों ने होर्डिंग लगवाकर सरकार के प्रति विरोध जाहिर किया। जिसमें लिखा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने मन की बात से व्यापारी को समझाये कि रेजगारी हम कहा चलाये। इतना ही नहीं व्यापारियों ने प्रधानमंत्री की तुलना दक्षिण कोरिया के तानाशाह किम जोंग से की हैं। जोंग का कहना है कि मैं दुनिया को मिटा कर दम लूँगा और मोदी कहते है कि मैं दुनिया से व्यापार को मिटा कर दम लूँगा। व्यापारियों के इस विरोध प्रदर्शन में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए एक युवक को हिरासत में ले लिया है।

 मालूम हो कि  केंद्र सरकार द्वारा पहले नोट बंदी ,जीएसटी और फिर बढ़ती रेजगारी ने व्यापारियों का जीना मुश्किल कर दिया है। इससे नाराज विभिन्न व्यापारी संगठनो खुदरा किराना व्यापार संघ, साइकिल पार्ट्स मैनुफैक्चरिंग एसोशियेशन के साथ मिलकर व्यापारी नेता राजू खन्ना ने पूरे शहर में हजारो स्थानों पर सरकार के विरुद्ध होर्डिंग लगवाई है। जब यह होर्डिंग गोविन्द नगर थाना क्षेत्र में सूरज नाम का कर्मचारी लगा रहा था, तभी स्थानीय लोगां की सूचना पर पहुंची पुलिस ने इसे बड़ी मात्रा में होर्डिंग पोस्टर के साथ पकड़ लिया। 

होर्डिंग में लिखा हुआ है कि हाय रेजगारी ने मार डाला डाला, व्यापारियों की भूल कमल का फूल ,रेजगारी का आपात काल न बैंक ले ,ना भिखारी रेजगारी ले सिर्फ व्यापारी स इस होर्डिंग में प्रधानमंत्री की तुलना तानाशाह किम जोंग से की गई है। 

व्यापारी राजू खन्ना ने बताया कि  प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने व्यापारियों को कही भी नही छोड़ा है, उन्होंने व्यापारियों को ख़त्म करने की कसम खाई है, इस लिए हमने होर्डिंग और पोस्टर के माध्यम से अपना आक्रोश व्यक्त किया है। इन्होंने पहले नोट बंदी की जिसने व्यापारियों की कमर तोड़ दी, इसके बाद एक साल के भीतर ही जीएसटी लगा दी जिसने तो मुंह का निवाला ही छीन लिया।

 इसके बाद रेजगारी जिसमे 05 के व् 10 के सिक्के बैंक भी लेने को तैयार नही है। अब इस स्थिति में हम लोग कैसे व्यापर करे हमारी बात कोई सुनने को तैयार नही है स आखिर हम व्यापर करे तो कैसे करे इस लिए मैंने व् मेरे साथ कई व्यापर संघठनो ने मिलकर इसका विरोध करने का फैसला किया ताकि सरकार हमारी इन समस्याओ की तरफ ध्यान दे। 

LEAVE A REPLY