कानपुर (जुर्म):लव सेक्स और धोखा बनी काकादेव अग्निकांड की वजह , पढिये पूरी खबर

0
792

वर्ल्ड खबर एक्सप्रेस न्यूज
कानपुर : काकादेव हॉस्टल में हुए अग्निकांड जिसने 3 लोगों को मौत की नींद सुला दिया जिसमें 12 अन्य गंभीर रूप से झुलस भी गये थे प्रारम्भिक जाँच में शॉर्ट सर्किट आग की वजह बतायी जा रही थी फिर सीसीटीवी फुटेज घटना में नया मोड़ लेकर आयी और एक युवक को हॉस्टल के अंदर पेट्रोल भरी बोतल फेंककर आग लगाते हुए देखा गया . स्कूटी नम्बर व् मृतकों की कॉल ट्रैश करने के बाद आज एसपी साऊथ ने अग्निकांड का खुलासा किया .

रिया उर्फ़ चांदिनी बनी घटना की मुख्य वजह

पुलिस की गिरफ्त में आये आरोपी सिद्धार्थ जयसवाल पुत्र राजेश जयसवाल निवासी बकरमंडी थाना कर्नलगंज ने पुलिसिया पूछतांछ में बताया कि हॉस्टल में रहने वाली चांदिनी से उसके प्रेम सम्बन्ध थे बताते चले चांदिनी की मौत भी अग्निकांड में हुई थी सिदार्थ के अनुसार चांदिनी ने उसे अपनी शादी के बारे में नही बताया था और जब उसको इस बात की जानकारी हुई तो इस बीच सिद्धार्थ और चांदिनी के कई बार शारीरिक सम्बंध भी बन चुके थे .चांदिनी बहुत ही शातिर थी उसने सिद्धार्थ व् खुद के आपत्तिजनक वीडियों व् फोटोस को मोबाइल में सेव कर रखा था जब सिदार्थ को उसकी शादी की बाद पता चली और दोनों में कहासुनी हुई तो चांदनी उसे ब्लैकमेल करने लगी और जेल भेजने की धमकी देने लगी और सिद्धार्थ के अनुसार उसने उससे मोबाईल स्कूटी और तकरीबन 1.5 लाख रूपये भी ब्लैकमेल करते हुए लिए थे .

घटना वाले दिन मिले थे चांदिनी और सिद्धार्थ

सिद्धार्थ के अनुसार दोनों हादसे वाले दिन मिले थे फिर उसके बाद वो परमट पहुंचे वहां पर चांदिनी ने फिर से फोटो और वीडियो दिखाते हुए धमकी दी जब सिद्धार्थ ने फोटो और वीडियों हटाने के लिए बोला तो उसने मना कर दिया . और वहां से लौटने पर दोनों ने बियर भी इसी बीच चांदिनी ने सिद्धार्थ से सिगरेट मंगाई और जब सिद्धार्थ वापस आया तब तक रिया उसकी स्कूटी लेकर भाग निकली थी .

सिदार्थ ने की चांदिनी की दोस्त से बातचीत

चांदिनी से परेशान सिदार्थ रायपुरवा निवासी अपने दोस्त अंशुमन के पास पहुंचा और उसके वाई -फाई राउटर से चांदनी व् उसकी पुरानी दोस्त गीता से बात करते की उसके बाद देर रात गुस्से में आकर सिदार्थ ने अंशुमन की स्कूटी ली और काकादेव के एक पेट्रोलपम्प से बोतल में पेट्रोल लेकर हॉस्टल के गेट के बाहर से स्कूटी में पेट्रोल डालाऔर उसमें आग लगा दी इसी बीच वो सीसीटीवी कैमरें में कैद हो गया साथ ही उसकी स्कूटी का नम्बर भी . दूसरे दिन जब उसने समाचारपत्रों में अग्निकांड के बारे में पढ़ा तो उसने अपने बात अंशुमन वो गीता को बताते हुए लखनऊ चला गया इधर पुलिस ने कॉल डिटेल वाई फाई राउटर व् स्कूटी नम्बर के आधार पर आरोपी का पता लगा चुकी थी और आज झकरकटी बस अड्डे से सिदार्थ को गिरफ्तार कर लिया गया .

लव सेक्स और धोखा
चांदिनी जहाँ एक तरह बीकॉम के स्टूडेंट के साथ लिव इन रिलेशनशिप में हास्टल में रहती थी वहीं दूसरी तरफ पैसों के लिए सिदार्थ को अपने जाल में फंसाकर उससे रूपये लिया करती थी लव सेक्स और धोखे ने कभी न भूलने वाले अग्निकांड जैसे जुर्म को पैदा किया .जिसमें बेगुनाहों की जान ही नही गयी बल्कि 12 लोगों को मौत के मुहं के करीब तक पहुंचाया .

LEAVE A REPLY