एनएच-86 को फोरन लेन बनाने के लिये धरने पर बैठे भाजपाई

0
154

No

हमीरपुर, 18 दिसम्बर । उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिला मुख्यालय स्थित कलेक्ट्रेट प्रांगण में नौबस्ता कानपुर-कबरई महोबा तक 132 किमी लम्बे नेशनल हाइवे को फोरलेन में तब्दील करने की मांग को लेकर सोमवार को विभिन्न संगठन बेमियादी धरने पर बैठ गये हैं। इस दौरान भाजपा के वरिष्ठ नेता राजीव शुक्ला ने धरने में कहा कि यह नेशनल हाइवे पूरी तरह से खूनी हो चुकी है जिसमें सिर्फ नवम्बर महीने में 209 लोगों की सड़क दुघर्टनाओं में मौत हो चुकी है। धरना प्रदर्शन करने वालों ने प्रधानमंत्री को सम्बोधित एक ज्ञापन भी जिलाधिकारी के माध्यम से भेजा। 

जिला मुख्यालय के कलेक्ट्रेट प्रांगण में समाजसेवी विजय द्विवेदी के नेतृत्व में भाजपा के वरिष्ठ नेता राजीव शुक्ला, भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के जिलाध्यक्ष मुनीर खान, आशीष गुप्ता, राघवेन्द्र मिश्रा, अतुल, दीपक शर्मा, रोहित शिवहरे, पुष्पराज सोनी, देवेन्द्र सिंह, आशीष निगम, गुरु प्रताप सिंह, संतोष कुशवाहा, डा.देवीदीन अविनाशी, प्रेरित गुप्ता सहित बड़ी संख्या में विभिन्न संगठनों के लोग बेमियादी धरने पर बैठ गये हैं। सर्दी के बावजूद धरना प्रदर्शन कर लोगों ने नारेबाजी भी की। 

भाजपा के वरिष्ठ नेता व समाजसेवी विजय कुमार एड.ने बताया कि कानपुर के नौबस्ता से महोबा के कबरई तक 132 किमी का नेशनल हाइवे खूनी हो गया है। क्योंकि यह हाइवे टू लेन का है जिसमें कोई भी डिवाइडर नहीं है। अरबों की धनराशि खर्च कर इस टू लेन में हाइवे कई साल पहले बनाया गया था, जिसमें आये दिन सड़क हादसे में लोगों की मौतें हो रही हैं। भाजपा नेता ने कहा कि इस साल इस नेशनल हाइवे में 20 लोगों की मौत सड़क हादसे में हो चुकी है। हाल में ही यमुना पुल पार दुर्गा मंदिर के पास आधा दर्जन लोगों की मौत हादसे में हुयी थी। 

संगठनों ने कहा कि नेशनल हाइवे के किनारे आधी आबादी रहती है जिनमें हर रोज सड़क दुघर्टना से दहशत व्याप्त है। धरना प्रदर्शन के बाद जिलाधिकारी के माध्यम से प्रधानमंत्री को एक ज्ञापन भेजा गया जिसमें नेशनल हाइवे को फोरलेन में तब्दील करने, आबादी क्षेत्र में भारी वाहनों की गति सीमा तय होने सहित कई मांगों पर कार्यवाही करने की मांग की गयी है। समाजसेवी विजय ने कहा कि जब तक मांगे पूरी नहीं होती तब तक धरना जारी रहेगा।

LEAVE A REPLY