पिकनिक पर आए दो बच्चे नदी में डूबे, सदमे में मां ने कुएं में लगाई छलांग

0
160

हजारीबाग,1अक्टूबर।इचाक के तेतरिया नदी में पिकनिक मनाने आए दो बच्चों की मौत रविवार को नदी में डूबने से हो गई। नौ की संख्या में आए बच्चे इचाक के ही कैम्पियन बेसिक अकादमी स्कूल के छात्र थे। नहाने के क्रम में गहरे पानी में चले जाने से दोनों बच्चों की मौत हुई। मृतकों में तेतरिया गांव के ही संदीप कुमार सिंह के 13 वर्षीय पुत्र प्रियांशु कुमार सिंह और सुदामा सिंह के पुत्र सूर्यांशु कुमार सिंह (11) शामिल हैं। प्रियांशु कक्षा चार एवं सूर्यांशु कक्षा तीन का छात्र था।
इधर, घटना की खबर मिलते ही सदमे में प्रियांशु की मां ने कुंए में छलांग लगाकर अपनी जान देने का प्रयास किया। बड़ी मुश्किल से लोगों ने उसकी जान बचाई। पूरे गांव में मातम छाया हुआ है, रात में किसी के घर चूल्हा नहीं जला। बच्चे दिन के 11 बजे नदी की ओर गए थे। खाना बनने में देरी देख दोनों नदी में नहाने गए थे। तेतरिया नदी में एक साथ सीरीज में पांच चैकडैम बने हैं। बच्चों को नदी की गहराई समझ नहीं आई। वे पानी में उतरे और सीधे अंदर चले गए। खाना बनने के बाद दोस्तों ने जब दोनों को आने में देरी देख तो नदी की ओर गए।
डैम के ऊपर दोनों बच्चों के चप्पल व कपड़े मिले। अनहोनी की आशंका पर बच्चों ने शोर मचाया। बच्चों की शोर सुनकर बरका गांव निवासी लक्ष्मण मेहता ने बच्चों को खोजने की कोशिश की लेकिन असफल रहा। इस दौरान पानी में लक्ष्मण भी डूबने से बच गया। इसी बीच, बच्चों ने भागते हुए गांव पहुंचकर प्रियांशु के पिता को जानकारी दी। घटना की खबर फैलते ही गांव में कोहराम मच गया। पूरा गांव नदी की ओर दौड़ पड़ा। ग्रामीणों ने नदी में उतरकर बच्चों के शव को बाहर निकाला।
रंका (गढ़वा) : रंका थाना क्षेत्र के खपरो गांव के गोरेया बांध टोला में रविवार की दोपहर टनटनवा नदी में नहाने गई दो बच्चियों की मौत डूबने से हो गई। काफी देर तक दोनों के घर नहीं लौटने पर परिजनों ने उसकी तलाश की। लेकिन इनका कहीं पता नहीं चला। खोजबीन के बाद नदी में बने बड़े गड्ढे से शाम 6 बजे दोनों बच्चियों के शव बरामद किए गए। गोरेया बांध टोला निवासी मोहन भुइयां की 9 वर्षीय बेटी सिमरन कुमारी एवं लक्ष्मण भुइयां की 10 वर्षीया बेटी अंजली कुमारी रविवार की दोपहर पास के ही टनटनवा नदी में नहाने गई थी। दोनों नहाने के क्रम में डूब गईं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here