रेलवे क्रॉसिंग गेट खोलने से इनकार करने पर गेटमैन का हाथ-पैर काटा

0
340

नई दिल्ली,18सितंबर।उत्तरी दिल्ली के नरेला में तीन व्यक्तियों ने रेलवे क्रॉसिंग पर फाटक नहीं खोलने पर गेटमैन के दोनों हाथ काट दिए। उत्तर रेलवे के प्रवक्ता नितिन चौधरी ने बताया कि एक बड़ी सर्जरी के बाद गेटमैन 28 वर्षीय कुंदन पाठक के हाथ फिर से जोड़ दिये गये हैं। रोहिणी के एक अस्पताल में यह सर्जरी चार घंटे से भी अधिक देर तक चली। पाठक पर रविवार रात करीब एक बजे हमला किया गया।
पाठक के पैर और गर्दन पर भी गंभीर चोटें आई हैं। वह बिहार के बांका जिले के बिशनपुर के निवासी हैं। अधिकारी ने बताया कि पाठक नरेला और राठधाना के बीच गेट नंबर19 पर रविवार की रात तैनात थे। उसी दौरान तीन बाइक सवार उनके पास आए और लेवल क्रॉसिंग गेट को खोलने की मांग करने लगे। पाठक ने ऐसा करने से मना कर दिया क्योंकि 18101 मुरी एक्सप्रेस यहां से गुजरने वाली थी। अधिकारी के अनुसार एक हाथ पूरी तरह कट गया था।
दूसरा हाथ कोहनी से अलग हो गया था। मुरी एक्सप्रेस संकट संबंधी सूचना मिलने पर रुक गयी और उसी ट्रेन से पाठक को सोनीपत के एक अस्पताल में पहुंचाया गया। वहां उनका आपात प्राथमिक उपचार किया गया। फिर उन्हें दिल्ली के उत्तर रेलवे सेंट्रल अस्पताल ले जाया गया। आखिर में वहां से उन्हें रोहिणी के सरोज अस्पताल में ले जाया गया। इस घटना में उनके भाई चंदन कुमार घायल हो गये। उन्हें राममनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वैसे अधिकारियों का कहना है कि उन्हें पता नहीं है कि पाठक के भाई कार्यस्थल पर क्या कर रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here