लखनऊ:-जीजा की बदनामी के डर से दम्पत्ति ने लगाई थी फाॅसी..

0
111

लखनऊ,31अगस्त।। बीती 28 तारीख को सचिन और सोनम द्वारा आत्महत्या की गई थी। लेकिन उस समय किसी को पता नही था कि यह आत्महत्या क्यो की गई। लेकिन आत्महत्या के परिजनों ने मोबाईल चिप में मिले वीडियों को देखा तो सन्न रह गए। उत्तर प्रदेश के बिजनौर में खुशहालपुर मठेरी के सचिन उर्फ सोनू व उसकी पत्नी सोनम ने गांव के ही युवक मोनू व उसके एक साथी के बेवजह बदनाम करने से तंग आकर आत्महत्या का कदम उठाया। यह सब खुलासा आत्महत्या से पहले दम्पति ने मोबाइल से एक वीडियो बनाकर किया और उस चिप को कमरे में रख दिया था। चिप हाथ लगने पर परिजनों ने इसे चलाकर देखा तो सब अवाक रह गए। जानकारी पर पुलिस ने वीडियो कब्जे में लेकर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।
गौरतलब है, कि तीन दिन पूर्व 28 अगस्त को ग्राम खुशहालपुर मठेरी में रामस्वरूप के पुत्र सचिन उर्फ सोनू और उसकी नवविवाहित पत्नी सोनम ने रात में एक ही रस्सी से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। परिजन भी आत्महत्या की कोई वजह नहीं समझ पाए थे। गुरुवार को दोनों के तीजे की रस्म थी। सफाई के दौरान कमरे में एक स्थान पर मोबाइल की चिप रखी मिली। परिजनों के अनुसार इस चिप को चलाकर देखा गया तो उसमें कईं छोटी-छोटी वीडियो क्लीप दम्पति ने फांसी का फंदा डालने तक के समय की बना रखी थी। इसमें पति पत्नी दोनों ने गांव के ही करण के पुत्र मोनू व उसके साथी पर सोनम को बेवजह समाज में बदनाम करने का आरोप लगाया। वीडियो में सचिन भी सोनम के साथ कह रहा है, कि जिस साढू को लेकर ये लोग बदनाम कर रहे हैं वह बिल्कुल निर्दोष है और उसके लिए सोनम बेटी जैसी थी। बदनामी के चलते ही वे लोग आत्महत्या कर रहे हैं। पति-पत्नी के आखिरी वीडियो में उन्होंने हाथ जोड़कर सभी परिवार वालों से राम-राम करते हुए विदा भी ली है। मामला उजागर होने के बाद पुलिस हरकत में आ गयी है और आरोपियों की तलाश में जुट गयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here