केरल में बाढ़ से मौतों का आंकड़ा बढ़कर 357 हुआ, 3 जिलों में रेड अलर्ट

0
188

तिरुवनंतपुरम : दक्षिण भारतीय राज्य केरल में 15 दिनों से अधिक वक्त से हो रही भारी बारिश के चलते बाढ़ और भूस्खलन की वजह से 33 लोगों की मौत हो गई। इस तरह प्रदेश में मौतों का कुल आंकड़ा बढ़कर 357 हो गया है, वहीं करीब तीन लाख लोग बेघर हो गए हैं। केरल सरकार की रिपोर्ट के अनुसार बाढ़ और भूस्खलन के चलते प्रदेश का 19 हजार करोड़ का नुकसान हुआ है।

मौसम विभाग ने केरल के 14 में से 11 जिलों में रविवार को भारी बारिश की आशंका व्यक्त की थी जिसके बाद 11 जिलों में रेड अलर्ट घोषित कर दिया गया था। आठ जिलों से रेड अलर्ट हटा लिया गया है। मौसम विभाग ने 20 अगस्त तक केरल के विभिन्न स्थानों पर भारी वर्षा का पूर्वानुमान जताया है, विभाग के मुताबिक, 20 अगस्त के बाद तेज बारिश नहीं होगी।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि अलग-थलग इलाकों और घरों के बारे में जानकारी की कमी की वजह से माना जाता है कि बड़ी संख्या में लोग फंसे हुए हैं। बचावकर्मियों के लिए यह चिंता का विषय है। एर्नाकुलम जिले में मुख्य रूप से परावुर और अलुवा तालुक में 54,000 से अधिक लोगों को बचाया गया है। वहां पिछले दो दिनों में भारी बारिश और गंभीर जल जमाव देखा गया।

उन्होंने बताया कि पिछले दो दिनों से कोच्चि के पास कलाडी में श्री शंकराचार्य विश्वविद्यालय के परिसर में एक इमारत में फंसे हुए 600 से ज्यादा छात्रों को बचाया गया। स्थानीय नेताओं ने कहा कि एर्नाकुलम जिले के परावुर क्षेत्र में हजारों लोग फंसे हुए हैं। अभी तक कई लोगों के फंसे होने के मद्देनजर अधिकारियों ने बचाव अभियान के लिए निजी नौकाओं और स्कूल बसों को देने के आदेश जारी किए।

केरल पिछले 100 सालों में रिकॉर्डतोड़ बारिश की मार झेल रहा है। देश के कई राज्यों समेत संयुक्त अरब अमीरात (UAE) और कतर जैसे देशों ने केरल की तरफ मदद का हाथ बढ़ाया है। कई नेताओं और जानी-मानी हस्तियों ने भी बाढ़ राहत कार्य के लिए डोनेशन दिया है। इन सबके बीच केरल के कोच्चि की रहने वाली 21 साल की छात्रा सोशल मीडिया पर छाई हुई है। अपनी पढ़ाई की जरूरतों को पूरा करने के लिए मछली बेचने के लिए सोशल मीडिया पर ट्रोल हुई छात्रा हनान हामिद ने बाढ़ प्रभावित केरल के मुख्यमंत्री आपदा राहत कोष में 1.5 लाख रुपये का योगदान किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here