कानपुर ( शर्मनाक): वन विभाग के पास नही है टाइम , बिधनू पुलिस के सामने ग्रामीणों ने अजगर को पीट पीट कर मार डाला

0
434

वर्ल्ड खबर एक्सप्रेस न्यूज
कानपुर : बिधनू पुलिस के सामने ही ग्रामीणों ने जानवरों से बद्दतर तरीके से 8 फीट लंबे अजगर को नुकीली सरिया व लाठी डंडों से बेरहमी से पीट पीट कर मार डाला । और पुलिस मूकदर्शक बनी रही साथ ही अजगर का निवाला बने राष्ट्रीय पक्षी का पीएम कराना भी जरूरी नही समझा।

क्या है पूरा मामला
बिधनू के अफजलपुर गॉव स्थित राजकीय इंटर कॉलेज के सामने खेत किनारे झाड़ियों में बुधवार शाम एक 8 फिट लम्बा अजगर मोर को अपना शिकार बना रहा था तभी मोर की आवाज सुन पास में ही मवेशी चरा रहे ग्रामीणों ने जब पास जाकर देखा तो गॉव के अन्य ग्रामीणों को अजगर द्वारा राष्ट्रीय पक्षी मोर को शिकार बनाने की सूचना दी । और तभी अफजलपुर गॉव के ग्रामीण लाठी डंडे लेकर खेत जा पहुंचे ।

7.10 पर हुई डायल 100 पर सूचना

ग्रामीणों ने जब अजगर द्वारा मोर का शिकार करते हुए देखा तो डायल 100 पर 7 बजकर 10 मिनट पर पुलिस को सूचना दी सूचना के 15 मिनट मयफोर्स के साथ बिधनू एसओ व पीआरवी इनोवा कार का पुलिस स्टाफ मौके पर पहुंचकर वनविभाग को फोन पर जानकारी दी ।

देर शाम को नही आती वन विभाग की टीम

ग्रामीणों के अनुसार पुलिस ने वनविभाग को सूचना की लेकिन जब वनविभाग की तरफ से देर शाम होने के चलते न आने की बात कही गयी तो ग्रामीणों ने बिधनू पुलिस के सामने ही अजगर को बरछी व लाठी डंडों से पीट पीट कर मार डाला और पुलिस मूकदर्शक बनी रही ।

मूक दर्शक बनी बिधनू पुलिस और नही कराया मोर का पीएम

बिधनू पुलिस अजगर की मौत का तमाशा देखकर लौट आयी और साथ ही ग्रामीणों को मोर व अजगर को दफनाने की बात कहते हुए चली आयी यही नही पुलिस ने राष्ट्रीय पक्षी का पीएम भी नही कराया ।

क्या बोले वनआधिकारी
जब मामले को लेकर फारेस्ट रेंजर दीपक श्रीवास्तव का सीयूजी नम्बर मिलाया गया तो उनका फोन ऑफ़ जा रहा था जब इस बाबत दरोगा शिवप्रसाद से बात की गई तो उन्होंने बताया कि अजगर जैसी कोई सूचना हमारे पास नही आई है अगर ग्रामीणों द्वारा उसे मारा गया है तो उन पर कार्यवाही की जाएगी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here