कानपुर :पत्नी निकली दारोगा की हत्यारन ,जानिए किसलिए उतारा मौत के घाट …

0
593
वर्ल्ड ख़बर एक्सप्रेस न्यूज़:
कानपुर,7 जुलाई |रिश्तों को दागदार कर लालच और वासना में अंधी होकर दूसरी पत्नी ने प्रेमी संग मिलकर पति की निर्ममता से हत्या कर दी |

बीती 2 जुलाई को सजेती थाने में दरोगा का लहूलुहान शव थाने परिसर स्थित उसके आवास में अद्र्धनग्न हालत में पड़ा मिला था, वंही एसएसपी द्वारा बनाई गई टीम ने घटना का खुलासा करते हुए मृतक दरोगा की दूसरी पत्नी सहित 3 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार हत्या की वजह दूसरी पत्नी का किसी से अवैध संबंध बताया गया है।

शनिवार को प्रेसवार्ता करते हुए एसएसपी अखिलेश कुमार ने बताया कि बेनीगंज हरदोई निवासी किरण देवी का संबंध दरोगा पच्चालाल से वर्ष 2003 में हरदोई में तैनाती के दौरान हुआ था जिसके बाद दरोगा ने उसे अपनी दूसरी पत्नी के रूप में कानपुर के नवाबगंज इलाके में रख लिया इसी बीच पच्चालाल के मित्र जितेंद्र उर्फ महेंद्र यादव जो रोडवेज में ड्राइवर है और उसका पच्चालाल के घर आना जाना था

इसी बीच कब किरण और जितेंद्र के बीच प्यार पनप गया पच्चालाल को पता भी नही चला, पति को अपने प्यार के बीच रोड़ा बनते देख पत्नी और प्रेमी जितेंद्र ने पच्चालाल की हत्या की साजिश रची, चूंकि पच्चालाल 58 वर्ष के थे और रिटायरमेंट के करीब थे ।

ऐसे में अगर उनकी आन ड्यूटी हत्या होती है तो उनके बेटे को नौकरी और पत्नी को जीवन भर पेंशन मिलती रहेगी और इनके प्यार का रास्ता भी साफ हो जाएगा, घटना को अंजाम देने के लिए जितेंद्र ने औरैया निवासी निजाम अली और राघवेंद्र से मिलकर 2 जुलाई को पच्चालाल की हत्या कर दी।

एसएसपी अखिलेश कुमार ने काम समय मे इंस्पेक्टर रेलबाजार मनोज कुमार रघुवंशी और इंस्पेक्टर घाटमपुर दिलीप कुमार बिंद और उनकी टीम को 25 हजार के पुरस्कार किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here