नई दिल्ली : बुराड़ी केस में पुलिस को मिली तीसरी लाल डायरी

0
116

नई दिल्ली, 03 जुलाई । बुराड़ी 11 मौत के मामले में जांच के दौरान मंगलवार को एक और पर्दा उठा, जब दोपहर में पुलिस टीम उक्त मकान में दोबारा जांच करने गई तो उन्हें तीसरा रजिस्टर मिला। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को अभी तक की जांच में जितने भी साक्ष्य मिले हैं। सभी तंत्र-मंत्र की तरफ ही इशारा करते नजर आ रहे हैं। लाल रंग के तीसरा रजिस्टर में बहुत कुछ पुलिस अधिकारियों ने बताया कि क्रॉइम ब्रांच की टीम मंगलवार दोपहर मकान का मुआएना करने के लिए पहुंची थी।

टीम को दूसरी मंजिल पर बने कमरे में से एक लाल रंग का रजिस्टर मिला है। यह रजिस्टर करीब 600 पेज का है। जिसके सभी पेज पर कुछ न कुछ लिखा हुआ है। इन पेजों में से अधिकतर पेजों पर धार्मिक फोटो भी चिपका रखी है। जबकि शुरुआती पेज पर एक ग्रीटिंग बना रखा है जिसपर गुड लक लिखा हुआ हैं। सभी पेजों पर धार्मिक और तंत्र-मत्र की चीजें लिखी हुई हैं। साथ ही अपने पिता से की गई बातें आदि के बारे में लिखा हुआ है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि रजिस्टर मिलने से उनकी जिस तरह से जांच जिस दिशा में चल रही है वो ओर ज्यादा पुख्ता हो गई। रजिस्टर की हेड राइटिंग भी दोनों रजिस्टर पर लिखी हेड राइटिंग से मिल रही हैं। रजिस्टर में भी मोक्ष और आत्मा के बारे में लिखा हुआ है। जिसकी विधि करने के बाद उनको क्या चीज मिल जाती। किस चीज से उनको मिलना था। यह नहीं पता चला है। फिलहाल रजिस्टर को खंगाला जाएगा। जंगला लगाने से किया था ललीत ने मना पुलिस अधिकारियों की मानें तो बुराड़ी इलाके में ही रहने वाले कंवरपाल से रोहिणी क्राइम ब्रांच ऑफिस में पूछताछ की गई।

कंवरपाल ने ही ललित के मकान में वेलडिंग का काम किया था। कंवरपाल ने ललित से जंगला लगवाकर अच्छी हवा आने की बात कही थी। लेकिन ललित ने उसको कहा था कि हमकों पता है कि यहां पर जंगला लगवाना है या फिर बड़े पाइप लगवाने हैं। जब वह पाइप लगवा रहे थे। उसको भी काफी हैरानी हुई थी। ललीत ने ही उनको बताया था कि इस तरह से और इतनी दूरी पर कौन सा पाइप लगाना है। जिसमें उन्होंने कुछ एल टाइप के तो कुछ सीधे पाइप लगवाए थे। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि वह किसी भी एंगल को नहीं छोड़ना चाहते हैं। जांच में पता चला है कि कुछ साल पहले ललित की दुकान में आग लग गई थी। जिसके बारे में पता लगा था कि आग पूजा की जोत से लगी थी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here