खरीफ की फसल पर किसानों को केंद्र की सौगात

0
49

नई दिल्ली, 04 जुलाई। केंद्र सरकार ने आगामी आम चुनाव में उतरने से पहले किसानों को बड़ी सौगात दी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किसानों से किए वादे को पूरा करते हुए 2018-19 के लिए खरीफ की फसल के उत्पादन लागत पर न्यूनतम समर्थन मूल्य (एसएसपी) में 50 फीसदी बढ़ोतरी का ऐलान किया है। इसके तहत धान के समर्थन मूल्य में 200 रुपये प्रति कुंतल की बढ़ोतरी की गई है।

यानि अब धान का समर्थन मूल्य 1550 रुपये से बढ़कर 1750 रुपये प्रति कुंतल हो गया है। इसके साथ ही दाल, सोयाबीन, मूंगफली, मक्का व अन्य खरीफ की फसलों पर एमएसपी को मंजूरी दे दी गई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हुई आर्थिक मामलों की केंद्रीय मंत्रिमंडल (सीसीईए) की बैठक में खरीफ की फसलों के लागत पर 50 फीसदी ज्यादा एमएसपी देने का फैसला किया गया। बैठक के बाद गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने इसकी घोषणा की। उन्होंने इसे ऐतिहासिक कदम बताया। श्री सिंह ने कहा कि धान के लिए डेढ़ गुना से ज्यादा न्यूनतम समर्थन मूल्य को मंजूरी दी गई है।

इसके तहत धान पर एमएसपी में 200 रुपये प्रति कुंतल का इजाफा किया गया है। धान पर अभी तक न्यूनतम समर्थन मूल्य 1550 रुपये क्विंटल था जो बढ़कर अब 1750 रुपये हो गया। 2017-18 की तुलना में धान (ग्रेड ए) का एमएसपी 1,590 रुपये से बढ़ाकर 1,750 रुपये प्रति कुंतल,कपास का एमसएसपी 4020 रुपये से बढ़ाकर 5150 रुपए प्रति कुंतल, कपास (लॉन्ग स्टेपल) का एमएसपी 4320 रुपये से बढ़ाकर 5450 रुपये प्रति कुंतल, अरहर दाल पर 5450 रुपये से बढ़ाकर 5675 रुपये प्रति कुंतल, मूंग, 5,575 रुपये से बढ़ाकर 6,975 रुपये, उड़द 5,400 रुपये से बढ़ाकर 5,600 रुपये प्रति कुंतल तय की गई। श्री सिंह ने कहा कि खरीफ की फसलों का समर्थन मूल्य तय करते वक्त सरकार ने फसल पर लागत, कृषि संयंत्रों पर ह्रास, पट्टा भूमि का किराया, पारिवारिक श्रम व तमाम पहलुओं को ध्यान में रखकर फैसला किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here