समाजवादियों ने जिलाधिकारी कानपुर को मेट्रो में देरी के खिलाफ माँगपत्र सौंपा

0
82

वर्ल्ड खबर एक्सप्रेस न्यूज

कानपुर। 2 वर्ष बीतने के बावजूद कानपुर मेट्रो केवल कागजों में फंसी मिल रही है जिससे आहत समाजवादी पार्टी व्यापार सभा के प्रदेश उपाध्यक्ष अभिमन्यु गुप्ता के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने जिलाधिकारी कानपुर को माँगपत्र सौंप जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह से माँग रखी की वे प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर मेट्रो का काम जल्दी शुरू करवाने की सिफारिश करें।माँगपत्र में कहा गया की 4 अक्टूबर 2016 को कानपुर में तत्कालीन मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने कानपुर मेट्रो का शिलान्यास किया था।कानपुर के लिए यह किसी ख्वाब से कम नहीं था।परियोजना में तय था की जुलाई 2019 तक कानपुर मेट्रो शुरू कर दी जाएगी।

स्वयं वर्तमान उपराष्ट्रपति महामहिम श्री वेंकैया नायडू भी शिलान्यास कार्यक्रम में उपस्थित थे।पर जैसे ही 2017 में प्रदेश सरकार बदली वैसे ही नीति बदल दी गई और पीपीपी मॉडल सिस्टम को लादा गया जिससे कि मेट्रो तैयारी का काम कागजों पे ही रुक गया।34 किलोमीटर क्षेत्र में दौड़ने वाली कानपुर मेट्रो को जन सेवा की जगह कुछ निजी पूंजीपतियों के लिए आय का सोत्र बनाने की कोशिश की जा रही है।मुनाफा देखा जा रहा है इसलिए पूंजीपति कंपनियाँ निवेश को तैयार नहीं हो रही हैं।

जनसेवा में मुनाफा नहीं देखा जाता है।आज के हालात में कानपुर में मेट्रो बनने पर कानपुर के लिए कई अभूतपूर्व लाभ हैं। माँगपत्र में आगे कहा गया की जहां जहां मेट्रो चल चुकी हैं वहां चलने के कई फायदे सरकार ने खुद गिनवाए हैं।सरकारी आंकड़ों के अनुसार मेट्रो के फायदे अगर 34 किलोमीटर का कुल नेटवर्क हो तो निम्न होंगे।1) प्रदूषकों की 1,00,000 टन की वार्षिक कमी दिखेगी।

कानपुर दुनिया का सबसे प्रदूषित शहर घोषित हुआ है और इस वक़्त कानपुर मेट्रो का होना इस भयावह प्रदूषण की स्तिथि को कम करने में अहम योगदान देगा।2) दैनिक आधार पर सड़क से लगभग 70 हज़ार वाहनों की कमी हो सकती है।कम गाड़ी होंगी तो कम प्रदूषण होगा।ताज़ा हवा मिलेगी।3) यात्रा के समय में औसतन 32 से 40 मिनट की कमी आएगी। 4) ईंधन की खपत में लगभग 100,000 टन की वार्षिक कमी आएगी।5) सड़क दुर्घटनाओं ,मौत आदि में अभूतपूर्व कमी आएगी।

यातायात संबंधित कई समस्याओं जैसे कि जाम आदि से निजात मिलेगी।7)व्यापार बढ़ेगा तरक्की बढ़ेगी निवेश बढ़ेगा।8)सस्ते और सुरक्षित यातायात की सुविधा कानपुर के नागरिकों,छोटे व्यापारियों, महिलाओं आदि को मिलेगी। सपा व्यापार सभा के प्रदेश उपाध्यक्ष व प्रान्तीय व्यापार मण्डल के प्रदेश अध्यक्ष अभिमन्यु गुप्ता ने कहा की कानपुर में मेट्रो परियोजना समाजवादी सरकार का कानपुर को स्वर्णिम तोहफा है।पर राजनैतिक मंशा काम को रोक रही है।आज समाजवादी सरकार होती तो कानपुर में मेट्रो परियोजना लगभग तैयार हो चुकी होती।कानपुर के सांसद आदरणीय मुरली मनोहर जोशी जी कानपुर में उपलब्ध नहीं रहते अन्यथा उनसे मिलके आवाज़ उठाई जाती।

कानपुर के जिलाधिकारी से निवेदन किया गया है की वे प्रधानमंत्री जी व मुख्यमंत्री जी को जमीनी स्तिथि से अवगत कराते हुए उनको तत्काल लिखें ताकि उनको एहसास हो कि कानपुर में मेट्रो होना बेहद आवश्यक है।उनको अवगत कराएं की कानपुर में मेट्रो जनता चाहती है।जेल पर्यवेक्षक और प्रान्तीय व्यापार मण्डल के प्रदेश महासचिव हरप्रीत सिंह बब्बर ने कहा की चाहे सरकारी खजाने से बनाना पड़े,पर कानपुर में मेट्रो होना मौजूदा हालात में बेहद आवश्यक है।

सपा व्यापार सभा प्रदेश उपाध्यक्ष व प्रान्तीय व्यापार मण्डल के प्रदेश अध्यक्ष अभिमन्यु गुप्ता,प्रान्तीय व्यापार मण्डल प्रदेश महासचिव व जेल पर्यवेक्षक हरप्रीत सिंह बब्बर,प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष संजय बिस्वारी,उपाध्यक्ष बॉबी सिंह,नगर अध्यक्ष शुभम जेटली आदि प्रतिनिधि मण्डल में शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here