कानपुर:अशोक सिंघल के नजदीकी विहिप के केन्द्रीय कोषाध्यक्ष रामनाथ दुनिया से हुये अलविदा

0
121

कानपुर, 20 जून । ग्वालटोली थानाक्षेत्र में रहने वाले विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय कोषाध्यक्ष रामनाथ महेंद्र का अकास्मिक निधन मंगलवार देर रात 12.30 बजे हो गया। उनके निधन की खबर पाते ही बुधवार सुबह से ही लोगों का उनके घर पर अंतिम दर्शन के लिये तांता लगने लगा। बताया गया कि चार बजे भैरव घाट में उनके शव को कुछ देर के लिए रखा जायेगा और इसके बाद अंतिम संस्कार कर दिया जायेगा।

सर्राफा कारोबार से जुड़े रहे खलासी लाइन निवासी रामनाथ महेन्द्र विश्व हिन्दू परिषद के अन्तरराष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक सिंघल से प्रभावित होकर विहिप में शामिल हो गये थे। इसके बाद उन्होंने मुड़कर नहीं देखा और संगठन में जो भी जिम्मेदारी मिलती रही उसका शत प्रतिशत निर्वहन करते थे। जिसके चलते संगठन में वह इन दिनों केन्द्रीय कोषाध्यक्ष रहें। लेकिन देर रात वह दुनिया से अलविदा हो गये।

बुधवार सुबह जैसे ही यह जानकारी विहिप के पदाधिकारियों, प्रबुद्धजनों व उनके चाहने वालों को मिलीं, तो उनके अंतिम दर्शन के लिए उनके आवास पर तांता लग गया। विहिप के पदाधिकारी अवध बिहारी ने बताया देर रात कोषाध्यक्ष जी का निधन हार्टअटैक से हुआ। वह अपने पीछे पत्नी, बेटा आदि को छोड़ गए। उनके आवास पर विहिप, संघ परिवार, उद्यमी समेत कई लोग पहुंचते रहें। उन्होंने बताया कि

विहिप के अध्यक्ष अशोक सिंघल की कर्मस्थली कानपुर रही और उनसे प्रभावित होकर वह विहिप से जुड़ गये। इसके बाद वह महानगर अध्यक्ष से लेकर केंद्रीय कोषाध्यक्ष तक का सफर अग्रज की भूमिका में तय किया। इसके अलावा वह रोटरी जैसी अंतरराष्ट्रीय संस्था से भी कई सालों तक जुड़े रहें। शहर की तमाम सामाजिक संस्थाओं में हमेशा सक्रिय पदाधिकारी की भूमिका में उन्होंने अपनी जिम्मेदारी का गंभीरता से निर्वाहन किया।

यहां तक कि विहिप में इतने बड़े ओहदे के बावजूद वह सदैव सर्राफा व्यापारियों की परेशानियों को भी सुनते थे। हर व्यापारी की बात परिवार के सदस्य की तरह सुनते थे। उन्होंने व्यापारियों के हित में कई अहम कदम उठाए। उत्तर प्रदेश सर्राफा एसोसिएशन के सचिव रामकिशोर मिश्रा ने बताया वह उत्तर प्रदेश सराफा एसोसिएशन के प्रदेश कोषाध्यक्ष रहें। अवध बिहारी ने बताया कि अभी संगठन के पदाधिकारी लगातार उनके दर्शन के लिये आ रहें हैं और करीब पांच बजे उनका अंतिम संस्कार भैरव घाट में किया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here