कानपुर : एसटीएफ ने करोड़ों के बिजली उपकरणों के साथ चार को किया गिरफ्तार

0
169

-बिजली विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत से स्टोरों से चोरी हो रहे थे उपकरण
कानपुर, 19 जून । केन्द्र और राज्य सरकार गांव-गांव में बिजली पहुंचाने की मुहिम में लगी हैं। सरकारें विद्युतीकरण करना के साथ ही इसका प्रचार भी जोरों पर कर रही हैं। लेकिन सरकारी योजानओं का लाभ उपभोक्ताओं को मिलने के बजाये भ्रष्टाचारियों को मिल रहा है।

ऐसे ही एक बड़े गिरोह का कानपुर में एसटीएफ ने छापेमारी कर बड़े पैमाने पर सरकारी बिजली के उपकरण बेचे जाने के मामले का भंडाफोड़ कर चार लोगों को गिरफ्तार किया है। अपर पुलिस अधीक्षक एसटीएफ अरविन्द चतुर्वेदी ने पुलिस लाइन में खुलासा करते हुए बताया कि काफी समय से सूचना मिल रही थी कि विद्युतीकरण के लिए लाये जा रहे उपकरण, तार व अन्य सामान चोरी हो रहा है।

सूचना के आधार पर एसटीएफ की टीमें लगाई गई। सटीक जानकारी जुटाते हुए मंगलवार सुबह पनकी इलाके में स्थित तीन गोदामों में छापेमारी कर पुलिस ने करोड़ो का माल बरामद करते हुए चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार लोगों से पूछतांछ पर इस गिरोह में बिजली विभाग के तमाम अधिकारियों की मिली भगत की बात सामने आ रही है।

मामले में एसटीएफ की टीमें जांच का दायरा बढ़ाते हुए साक्ष्यों को जुटा रही है। ताकि इस गिरोह में संलिप्त अन्य लोगों को गिरफ्तार किया जा सके। छापेमारी के दौरान एसटीएफ को ट्रांसफार्मर, कापर व एल्युमिनियम तार, बिजली के कंडक्टर और दूसरा सामान बरामद हुआ है। बरामद सामान की कीमत करोड़ों में है।

अपर पुलिस अधीक्षक एसटीएफ के मुताबिक इस गिरोह में स्टोर कीपर के अलावा जेई स्तर
पर अधिकारियों की मिली भगत का पता चला है। वहीं गिरोह का संजाल पूरे प्रदेश में फैला हुआ है। जिसे दिल्ली ऑपरेट किया जा रहा है। जल्द ही इस भ्रष्टाचार के खुलासे में सरकारी कर्मचारियों और अधिकारियों की भी गिरफ्तारी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here