मैनपुरी हादसाः मुख्यमंत्री ने घायलों का बेहतर तरीके से इलाज के दिए निर्देश

0
145

मैनपुरी, 13 जून। जनपद के दन्नाहार थाना क्षेत्र में बुधवार तड़के हुए एक बड़े हादसे में एक निजी बस अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकराकर पलट गई, जिसमें अब तक 17 लोगों की मौत की पुष्टि की गई है, जबकि घायलों की संख्या दो दर्जन से अधिक बतायी जा रही है। घायलों का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर दुख जताते हुए घटना में सभी घायलों का इलाज बेहतर तरीके से कराने के निर्देश दिए हैं। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की ओर से कहा गया कि इस हृदयविदारक हादसा से बेहद आहत हूं। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, इलाज में कोई भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

ये हादसा उस समय हुआ जब तड़के जयपुर से कन्नौज के गुरसहायगंज जा रही टूरिस्ट बस संख्या यूपी 76के 7275 दन्नाहार थाना क्षेत्र के कीरतपुर चौकी के पास से गुजर रही थी। इसी दौरान वह अनियंत्रित होकर डिवाइडर से जा टकराई और पलट गई। बस में करीब 90 लोग सवार थे और हादसे में पांच की मौके पर ही मौत हो गई जबकि 12 अन्य ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ा। बताया जा रहा है कि हादसा चालक को नींद की झपकी आने की वजह से हुआ। घटना के तुरन्त बाद स्थानीय लोगों ने पुलिस को हादसे की सूचना दी और बचाव कार्य के लिए आगे आये। इसके बाद जनपद के कई थानों की पुलिस और एंबुलेंस घटनास्थल पर पहुंची और घायलों को इलाज के लिए भिजवाया।

उधर घटना की जानकारी मिलते ही जिलाधिकारी प्रदीप कुमार और पुलिस अधीक्षक अजय शंकर राय मौके पर पहुंचे और राहत कार्यों को तेजी से आगे बढ़ाया। अधिकारियों के मुताबिक फिलहाल घायलों को उचित इलाज मुहैया कराना प्राथमिकता है। इसके लिए सभी प्रबन्ध किये गये हैं। घायलों को मैनपुरी जिला अस्पताल और सैफई मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। वहीं शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। अधिकारियों के मुताबिक हादसे का वास्तविक कारण जांच के बाद सामने आयेगा। मृतकों के सम्बन्ध में भी जानकारी जुटायी रही है।

फिलहाल मृतकों में छिबरामऊ के जहफराबाद पालपुर के ज्ञानेंद्र और उसके भाई प्रदीप की पहचान हो चुकी है। पुलिस अन्य शवों की भी पहचान करने का प्रयास कर रही हैं। वहीं स्थानीय लोगों के मुताबिक बस तेज रफ्तार से जा रही थी और बेकाबू होकर डिवाइडर से टकराकर पलट गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here