अग्नि को साक्षी मानकर कानपुर को प्रदूषण रहित रखने की ली गयी शपथ

0
126

-मैट्रो के जल्द शुरूआत की मांग की गयी

कानपुर, 12 जून। विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा कानपुर को दुनिया का सबसे प्रदूषित शहर घोषित किये जाने पर शहरवासियों ने अग्नि को साक्षी मानकर स्वच्छ बनाने की शपथ ली। इसके साथ ही आने-जाने वाले लोगों को फूल देकर अपील की गयी कि अपने शहर को बदनाम करने से बचा लो और प्रदूषण के प्रति जागरूक हों।

प्रान्तीय व्यापार मण्डल के तत्वावधान में घण्टाघर चौराहे पर शहर के बढ़ते प्रदूषण को लेकर मंगलवार को गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें वक्ताओं ने शहर के बढ़ते प्रदूषण और उसके रोकथाम के उपाय बताये। इस दौरान प्रान्तीय व्यापार मण्डल के प्रदेश अध्यक्ष अभिमन्यु गुप्ता के नेतृत्व में व्यापारियों ने नागरिकों को अग्नि को साक्षी मानते हुए कानपुर को प्रदूषण रहित बनाने की शपथ दिलवाई।

उन्होंने कहा अधिक पेड़ पौधे लगायें, पेट्रोल, डीजल गाडियों को कम से कम प्रयोग हो, गाडी खड़ी करने पर बंद की जाये, पॉलीथीन की जगह कपड़े के झोलों का प्रयोग हो। कहा कि शहर में कार्बन और डस्ट के साथ कम ऑक्सीजन की बड़ी समस्या है, जिसके लिए सभी को मिलकर कदम उठाने होंगे।

अभिमन्यु ने बताया कि हर व्यक्ति को स्वस्थ जीवन जीने के लिए रोज 550 लीटर आक्सीजन चाहिये जो तभी मुमकिन है जब उसको कम से कम 11 हजार लीटर ताजा हवा मिले। उन्होंने यह भी मांग रखी कि सरकार मेट्रो की कानपुर में जल्द से जल्द शुरूआत करें जो शहर में प्रदूषण से लड़ने में काफी हद तक कारगर रहेगी। इस अवसर पर शुभम जेटली, अमन वार्ष्णेय, जितेन्द्र सिंह संधू, पारस गुप्ता, मनोज सैनी आदि मौजूद रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here