देहरादून: सरकारी नौकरी का झांसा देकर ठगे साढ़े तीन लाख रुपये

0
57

रिपोर्ट :मोहित शर्मा

देहरादून, 12 जून । राजधानी देहरादून में ठगी की एक और वारदात समाने आई है। थाना नेहरु कालोनी क्षेत्र निवासी एक व्यक्ति से सरकारी नौकरी लगवाने के नाम पर तीन लाख पचास हजार रूपये की ठगी की गई है। मामले में तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर इसकी जांच कर रही है। मंगलवार को एक व्यक्ति मदन मोहन जोशी निवासी सरस्वती विहार अजबपुर खुर्द ने थाना नेहरूकालोनी में लिखित तहरीर दी। उसने बताया कि सितम्बर 2017 में उनके परिचित तारा जोशी निवासी बंजारावाला ने कोर्ट में सरकारी नौकरी लगाने के सम्बन्ध में उनकी मुलाकात बबीता रानी वर्मा निवासी पायल एन्क्लेव शिमला बाइपास रोड से करवायी थी। इस दौरान नौकरी लगवाने के लिए सात लाख रूपये में बात तय हुई थी। जिसमें बबीता ने 3.50 लाख रुपये पहले और 3.50 लाख रुपये नौकरी लगाने के बाद में देने को कहा था।

बबीता रानी वर्मा के कहे अनुसार उसने अलग-अलग तिथियों में 3.50 लाख रुपये नगद व बैंक खाते के माध्यम से दे दिए। पैसे देने के तीन महीने बाद नौकरी न लगने पर बबीता रानी से सम्पर्क किया तो वह नौकरी लगाने तथा पैसे वापस करने पर टाल मटोल करती रही। मदन मोहन जोशी का आरोप है कि अप्रैल 2018 में बबीता ने उसे 3.50 लाख रुपये के चेक वापस किए थे, लेकिन बैंक वालों ने बबीता रानी के खाते में पैसे न होने पर उस चेक को वापस कर दिया। इस पर बबीता से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उससे कोई सम्पर्क नही हो पाया। बबीता रानी ने सरकारी नौकरी का झांसा देकर 3.50 लाख रूपये धोखाधडी से ले लिया। तहरीर के आधार पर थाना नेहरूकालोनी पुलिस ने बबीता रानी वर्मा के पर मामला पंजीकृत किया है। पुलिस का कहना है मामले में अग्रिम कर्रवाई जारी है। विवेचना के दौरान प्रकाश में आने वाले तथ्यों के आधार पर कर्रवाई की जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here