ट्रम्प और किम के ऐतिहासिक मुलाकात पर अमेरिका में उत्साह

0
70

वाशिंगटन, 12 जून । राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उत्तरी कोरियाई शासक किम जोंग उन के ऐतिहासिक मुलाकात पर अमेरिकी मीडिया, राजनेताओं और राजनैतिक तौर पर जागरूक जनता में असीम उत्साह देखा गया। एक ओर जहां मीडिया मिनट दर मिनट ख़बरें प्रसारित कर इस ऐतिहासिक वार्ता को लेकर दो देशों के बीच अब तक के संबंधों की गाथाओं की चर्चा में देर रात तक लगा रहा।

दूसरी ओर व्हाइट हाउस से लगातार शिखर वार्ता के दुर्लभ चित्र प्रसारित किए जाते रहे। इनमें दोनों नेताओं के अकेले में बातचीत के दौरान के भी चित्र थे। इन वार्ताओं में एक ही बात मुखर रूप में सामने आ रही थी कि यह वार्ता सफल होती है, तो राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का क़द और व्यक्तित्व दुनिया में बढ़ जाएगा। उनके लिए आगामी नवम्बर में मध्यावधि चुनाव जीतना तो सहज होगा ही, वर्ष 2020 के राष्ट्रपति चुनाव में दूसरी पारी में विजय हासिल कर पाना भी सरल हो जाएगा। यह स्थिति डेमोक्रेटिक पार्टी के लिए कष्टदायक हो सकती है।

इसके साथ यह संशय भी प्रकट किया जाता रहा कि किम जोंग उन अपने पिता और दादा की नीतियों से हट कर कुछ करेंगे, इसमें संशय है। इसके अलावा दूसरा तर्क यह दिया जा रहा है कि किम जोंग उन एक ही वार्ता में पूर्ण निरस्त्रीकरण पर तत्काल कोई आश्वासन दे देंगे और अपने साठ से अधिक आणविक हथियारों को नष्ट कर देंगे, नामुमकिन लगता है। इसके विपरीत अमेरिका के लिए भी दक्षिण कोरिया से अपनी सेनाएं हटाना और आर्थिक प्रतिबंधों को हटाने के लिए कोई तत्काल आश्वासन दे पाना मुश्किल होगा। इन दोनों नेताओं की सिंगापुर में सुबह नौ बजे से शुरू हुई शिखर वार्ता के अनुसार ईस्ट कोस्ट स्थित राज्यों वाशिंगटन, न्यूयॉर्क, न्यू जर्सी और केंटुकी आदि में रात के ठीक नौ बजते ही राष्ट्रीय संवाद समितियों और इलेक्ट्रोनिक मीडिया ने मिनट दर मिनट ख़बरें देना प्रारम्भ कर दिया था। इस वार्ता को लेकर सभी बड़े समाचार पत्रों में ऑनलाइन ख़बरों और चित्रों को लेकर होड़ मची थी। बाज़ारों और बड़े-बड़े माल में लगे टीवी पर भी एक ही तरह की ख़बरें और चित्र, वार्ताएं प्रसारित की जाती रहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here