सूरज की तल्ख किरणों से 40 के पार पंहुचा पारा, उमस भरी गर्मी बरकरार

0
83

कानपुर, 11 जून । उत्तरी पश्चिमी हवाओं के चलते कानपुर में संभावित प्री मानसून की बारिश फिलहाल होते नहीं दिख रही है। इसके साथ ही चिलचिलाती धूप से एक बार फिर तापमान में बढ़ोत्तरी हो गयी और 40 डिग्री के पार पारा पंहुच गया। वहीं आसमान में नमी के चलते उमस भरी गर्मी बरकरार रही। मौसम विभाग का कहना है कि अब आसमान साफ रहेगा और लोगों गर्मी से निजात नहीं मिल सकेगी।

पश्चिमी उत्तरी प्रदेश में हुई प्री मानसून की बारिश और उत्तरी पूर्वी हवाओं के चलते मौसम विभाग ने कानपुर के आस-पास भी प्री मानसून की बारिश होने की संभावना जतायी थी। लेकिन इधर दो दिनों से लगातार उत्तरी पश्चिमी हवायें चलने लगी। जिससे प्री मानसून की संभावना खत्म होती दिख रहीं हैं।

चन्द्रशेखर आजाद कृषि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डा. अनिरूद्ध दुबे ने बताया कि कानपुर में मानसून 18 जून के आस-पास आयेगा, लेकिन प्री मानसून के भी आसार बने हुये थे पर अब फिलहाल संभावना कम ही है। हवाओं की दिशायें उत्तरी पूर्वी की जगह उत्तरी पश्चिमी चल रहीं हैं। जिससे लोगों को उमस भरी गर्मी इस कदर महसूस हो रही है कि 45 डिग्री के पार हो गया। लेकिन पारा आज भी सामान्य से कम रहा। कहा इस सप्ताह संभावना है कि आसमान साफ रहेगा और शुष्क हवायें भी चलेगीं। जिससे गर्मी में कमी आने की उम्मीद क्षीण हैं।

डा. दुबे ने बताया कि जहां रविवार को सुबह 10 बजे तक अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रहा तो वहीं सोमवार को 30 डिग्री रहा। इसके बाद दोपहर तक आसमान में तेज धूप के चलते अधिकतम तापमान 40.8 डिग्री सेल्सियस जा पंहुचा। जो कल की अपेक्षा तीन डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं न्यूनतम तापमान में भी डेढ़ डिग्री सेल्सियस की बढ़ोत्तरी के साथ 28.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

बताया कि उत्तरी पश्चिमी हवाएं चल रहीं हैं, जिनकी रफ्तार आज कम हो गयी हैं और दो किलोमीटर प्रति घंटा रही। सुबह की आर्द्रता में चार फीसदी की गिरावट के साथ 62 फीसदी और दोपहर की आर्द्रता में तीन फीसदी की कमी के साथ 37 फीसदी दर्ज की गयी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here