भारत महिला एशिया कप टी-20 के फाइनल में, पाकिस्तान को 7 विकेट से हराया

0
43

कुआलालम्पुर,09 जून। भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने शनिवार को पाकिस्तान को सात विकेट से हराकर सातवीं बार एशिया कप के फाइनल में प्रवेश किया। पाकिस्तानी टीम ने निर्धारित 20 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 72 रन बनाए थे, जवाब में भारतीय टीम ने 16.1 ओवरों में तीन विकेट के नुकसान पर 75 रन बनाकर हासिल कर लिया। 73 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरूआत खराब रही और मात्र 1 रन पर मिताली राज बिना खाता खोले अनाम अमीन की गेंद पर बोल्ड हो गईं। इसके बाद तीसरे ओवर में 5 रनों के कुल स्कोर पर दीप्ति शर्मा भी बिना खाता खोले अमीन की गेंद पर बिसमाह मारूफ को कैच देकर आउट हो गईं।

दो विकेट जल्दी गिरने के बाद स्मृति मंधाना और कप्तान हरमनप्रीत ने संभलकर खेलते हुए स्कोर 50 के पार पहुंचाया। इन दोनों के बीच 65 रनों की साझेदारी हुई। 70 के कुल स्कोर पर मंधाना 38 रन बनाकर नाशरा संधू की गेंद पर जावेरिया खान को कैच देकर आउट हुईं। इसके बाद हरमनप्रीत ने चौका लगाकर टीम को जीत दिला दी। हरमनप्रीत 34 रन बनाकर नाबाद रहीं। उनके साथ अनुजा पाटिल बिना खाता खोले नाबाद रहीं। पाकिस्तान की तरफ से अनाम अमीन ने दो और नाशरा संधू ने 1 विकेट लिया। इससे पहले पाकिस्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। पाकिस्तान की शुरूआत खराब रही और 19 रन तक पहुंचते-पहुंचते नैन अबिदी (0), कप्तान बिस्माह मारुफ (4) और जावेरिया खान (4) के रूप में पाकिस्तान के तीन विकेट गिर गए।

हालांकि नादिया खान और साना मिर ने पारी को संभालने की कोशिश की, लेकिन 35 के कुल स्कोर पर नादिया 18 रन बनाकर दीप्ती शर्मा की गेंद पर भाटिया द्वारा स्टम्प कर दी गईं। उन्होने 18 रन रन बनाए। इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने पूरी तरह से पाकिस्तानी बल्लेबाजी को उजाड़ कर रख दिया और पाकिस्तानी टीम 20 ओवरों में सात विकेट पर 72 रन ही बना सकी। साना 20 रन बनाकर नाबाद रहीं। भारत की तरफ से एकता बिष्ट ने तीन, दीप्ती शर्मा, पूनम यादव, अनुजा पाटिल और शिखा पांडेय ने 1-1 विकेट लिया। एकता बिष्ट को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here