कानपुर ; आतंकी संगठन मुजाहिद्दीन ने मां को बेटे की सलामती के लिए भेजा धमकी भरा पत्र

0
146

-जम्मू में तैनात रेलवे कर्मी बेटे का खतरा जानकर मां ने दर्ज कराया मुकदमा
कानपुर, 06 जून । उत्तर प्रदेश में आतंकी धमकी को सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। प्रदेश के विधायकों को धमकी के बाद कानपुर जनपद में रहने वाले रेलवे कर्मी की मां को आतंकवादियों ने धमकी भरा पत्र भेजा है। पत्र भेजने वाले ने अपने को आतंकी संगठन मुजाहिद्दीन का बताते हुए जम्मू में तैनात इकलौते बेटे की सलामती के लिए 15 दिनों में सात लाख की रकम मांगी गई है।

जनपद के दक्षिण क्षेत्र में स्थित किदवई नगर थाना क्षेत्र के ई-ब्लाक में रहने वाली गीता बाजपाई अकेले रहती है। इनके पति सुनील बाजपाई का निधन हो चुका है। वृद्धा का एक बेटा है और रेलवे विभाग में जेई के पद पर जम्मू के कटरा में इन दिनों तैनात है। वृद्धा के मुताबिक बीते 4 जून को आठ बजे उनके घर पर किसी ने पत्र फेका गया। उन्होंने पत्र पढ़ा तो उसमें आतंकी संगठन मुजाहिद्दीन के नाम का जिक्र करते हुए जम्मू में तैनात बेटे को जान का खतरा बताया है।

पत्र भेजने वाले ने बेटे की जान के बदले में सात लाख रूपये की मांग की गयी है। जब से आतंकी संगठन मुजाहिद्दीन का धमकी भरा खत वृद्धा को मिला है उनकी तबीयत बिगड़ गई है। दिन-रात उन्हें अब बेटे की चिंता सता रही है। आतंकी धमकी भरा खत मिलने के बाद बुधवार को वह किदवई नगर थाना पुलिस के पास पहुंची और तहरीर दी। पीड़िता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने जांच शुरू का दी है। जब मामले को लेकर वृद्धा से बात की गई तो उन्होंने कहा, मैं कुछ नहीं बताउंगी और मुझे इस मामले में मीडिया से कोई बात नहीं करनी है।

इस मामले में किदवई नगर इंस्पेक्टर अनुराग मिश्रा ने बताया कि वृद्धा को भेजे गये पत्र में लिखा है कि ‘असलाम वालेकुम, मैं आतंकी संगठन मुजाहिद्दीन से हूं। मुझे पता है तुम्हारा बेटा जम्मू के कटरा में तैनात है, उसकी सलामती चाहती हो तो 15 दिन के अन्दर 7 लाख रुपये का इंतजाम कर लो। अगली चिट्ठी का इंतजार किया तो इसका अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहना।’ धमकी भरे पत्र की शिकायत पर मुकदमा कायम कर जांच की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here