चौपाल लगाकर सपाई भाजपा की नीतियों को करें पर्दाफाश : पूर्व मंत्री

0
55

कानपुर, 02 जून। गोरखपुर, फूलपुर के बाद कैराना और नूरपुर में मिली जीत से महागठबंधन की पार्टियां गदगद हैं। इसी के चलते आगामी लोकसभा चुनाव में बेहतर प्रदर्शन के लिए सपा ने संगठन के पेच कसने शुरू कर दिया। पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवकुमार बेरिया ने कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों से साफ कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देश पर चौपाल लगाकर भाजपा की नीतियों का पर्दाफाश करें। इसके साथ चौपाल लगने की वीडियोग्राफी कराकर भेजें जिसे हाईकमान को भेजना होगा।

नवीन मार्केट स्थित सपा कार्यालय में सपा कानपुर नगर और सपा ग्रामीण की शनिवार को संगठन की एक बैठक हुयी। सपा ग्रामीण जिलाध्यक्ष राघवेंद्र सिंह यादव ने सर्वप्रथम फ्रंटल अध्यक्षों एवं विधान सभा अध्यक्षों को तिथिवार केंद्रीय कर्यालय में मासिक बैठक करने के निर्देश दिये और अपनी कमेटी को जमा करने को कहा। बैठक में अनुपस्थित पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के लिए कहा कि इस तरह की लापरवाही संगठन में बर्दाश्त नहीं की जाएगी और मासिक बैठक में सभी को आना पड़ेगा।

कहा पहले जो होता था अब वह नहीं चलेगा, संगठन के लिए सभी को काम करना पड़ेगा चाहे वह कोई भी हो। उसके बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देशानुसार हर गांव में लगने वाली चौपाल की जानकरी विधान सभा अध्यक्षों एवम विधान सभा में निवास करने वाले वरिष्ठ नेताआें से मांगी और कहा कि इन सब कार्यों की रिपोर्ट राष्ट्रीय अध्यक्ष को दी जायेगी। इसलिये हर पदाधिकारी अपनी जिम्मेदारी पूर्ण रुप से निर्वहन करें। पूर्व कैबिनेट मंत्री शिवकुमार बेरिया ने कहा कि नाखुश जनता के घर-घर सपा सरकार में हुए विकास कार्यों को पंहुचाना है और बाकी का काम जनता खुद कर देगी। कहा कि झूठ के पुलिंदे को जनता पूरी तरह से समझ चुकी है, जरूरत है कि उनके नये झूठ आने पर जनता को भटकने से बचाया जा सके।

इसके साथ ही कहा कि पार्टी अध्यक्ष के निर्देशानुसार गांवों में चौपाल लगाकर भारतीय जनता पार्टी की नीतियों व खामियों को उजागर करें। नगर अध्यक्ष मोइन खान ने कहा की अब लोकसभा चुनाव नजदीक है इसलिये हर नेता कार्यकर्ता को अपनी कमर कस लेना चाहिये। जिससे सपा सरकार के हुए विकास कार्यों को घर-घर तक पंहुचाया जा सके। कहा कि आगामी लोकसभा जीतकर राष्ट्रीय अध्यक्ष के सपनों को साकार करना है।

जनता भाजपा के झूठे वादों से नाखुश है और विकास पुरूष अखिलेश यादव को सत्ता में देखना चाहती है। इसीलिए फूलपुर गोरखपुर कैराना और नूरपुर में जनता ने अखिलेश का साथ देते हुये भाजपा को नकार दिया। इस दौरान महेंद्र सिंह यादव, जितेन्द्र कटियार, राघवेन्द्र बजाज मिंटू, मुमताज, विक्रम परिहार, सुरेश गुप्ता, प्रदीप यादव, गिरीश कुरील आदि मौजूद रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here