कानपुर:पुलिस और आबकारी विभाग की मिलीभगत से हुआ शराब कांड : शिवपाल यादव

0
227
कानपुर, 28 मई । कानपुर नगर और कानपुर देहात जनपद में जहरीली शराब से हुई 19 लोगों की मौत के पीछे शराब माफियाओं का हाथ है। लेकिन पुलिस और आबकारी विभाग की मिलीभगत के बिना संभव नहीं है। ऐसे में शराब कांड की उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिये और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाये। यह बातें सपा नेता शिवपाल सिंह यादव ने कहीं।

बीते दिनों कानपुर मण्डल में जहरीली शराब कांड को लेकर समाजवादी पार्टी ने पांच सदस्यीय टीम का गठन कर पूरे मामले के तह तक जाने की बात कही थी। इसके फौरन बाद सपा नेता शिवपाल यादव ने शिवपाल सिंह यादव फैंस एसोसिएशन को गांव-गांव जाकर पीड़ितों से मिलने का निर्देश दिया।

इसके साथ ही यह भी निर्देशित किया गया कि अपने सूत्रों से पता किया जाय कि पूरे मामले कौन-कौन शामिल हैं। जिसके बाद फैंस एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष आशीष चौबे व उपाध्यक्ष शिव मोहन सिंह चंदेल ने अपनी टीम के साथ पीड़ितों के यहां जाकर दुख प्रकट कर न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया। इसके साथ ही शराब कांड के दोषियों की लिस्ट तैयार कर सोमवार को लखनऊ में शिवपाल यादव को सौंप दी।

चौबे ने बताया कि शिवपाल यादव ने पूरे प्रकरण की जानकारी ली और उन्होंने दुख प्रकट कर पीड़ित परिवारों को न्याय दिलाने का भरोसा दिया। कहा कि उच्च अधिकारियों से वार्ता कर दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही कराने की कोशिश करेंगे। इस दुख की घडी में वह पीड़ित परिवारों के साथ खड़े हैं। बताया कि पीड़ित परिवारों ने जांच में हेरफेर की आशंका जतायी है। शिवमोहन चंदेल ने बताया कि शराब कांड को लेकर शिवपाल यादव बेहद गंभीर हैं और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई न होने पर आंदोलन करने की भी बात कही है।

बताया कि उन्होंने कहा कि यह शराब कांड पुलिस और आबकारी विभाग की मिलीभगत के बिना संभव ही नहीं है और शराब माफिया के साथ ही दोषी कर्मियों के लिए उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिये। इस दौरान पूर्व प्रधान राम करन यादव, लाखन यादव, शैलेंद्र मिश्रा, आनंद शुक्ला, पीयूष चौहान, मुकेश बाजपेयी, आशीष द्विवेदी, संदीप श्रीवास्तव, अंकित अग्निहोत्री, आशीष पांडेय आदि मौजूद रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here