कानपुर(सजेती): पावर प्लांट में मजदूर की मौत के बाद ग्रामीणों व पुलिस के बीच जमकर हुआ बवाल

0
300

घाटमपुर, 25 मई । उत्तर प्रदेश के कानपुर जनपद में घाटमपुर में निर्माणधीन पॉवर प्लांट में काम करते समय मजदूर की मौत पर बवाल मच गया। ग्रामीणों व पुलिस के बीच लाठीचार्ज व फायरिंग तक की नौबत आ गई। हालात बेकाबू होने पर सैकड़ों ग्रामीणों ने पथराव व वाहनों को पलटना शुरू कर दिया। बिगड़े हालात की जानकारी मिलते ही जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक समेत भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचकर स्थिति को काबू करने में लगे हैं।

घाटमपुर के लोहरामऊ में बीजीआर कम्पनी द्वारा निर्माणाधीन पावर प्लांट में जनपद के साथ आसपास इलाके सहित बिहार व अन्य कई जिले के ग्रामीण काम कर रहे हैं। शुक्रवार सुबह बिहार निवासी मजूदर गोपाल 40 की काम करते समय मौत हो गई।

मजदूर की मौत पर प्लांट में काम कर रहे साथी मजदूर व ग्रामीणों ने हंगामा शुरू कर दिया। आरोप है कि निर्माणाधीन पावर प्लांट प्रशासन की तरफ से कोई सुनवाई न होने पर साथी मजदूर आग बबूला हो उठे और तोड़फोड़ शुरू कर दी।

प्लांट में खड़े अफसरों के वाहनों पर पथराव करते हुए उन्हें पलटाते हुए आगजनी करने लगे। सूचना पर घाटमपुर सर्किल की फोर्स पहुंच गई और भीड़ को समझाने का प्रयास किया। लेकिन गुस्साएं मजदूरों की भीड़ ने पुलिस पर भी हमलावर हो गए और खाकी पहने पुलिस कर्मियों को खदेड़ दिया। भीड़ के आक्रोश को देखते हुए बचाव में पुलिस बल ने लाठीचार्ज कर दी। इससे स्थिति बेकाबू हो गई और ग्रामीणों की भड़की भीड़ व हालत को काबू करने के लिए पुलिस ने कई राउंड हवाई फायरिंग की। पुलिस व ग्रामीणों के बीच हुई लाठीचार्ज व फायरिंग में एक दर्जन से अधिक लोग घायल हो गये और हालत लगातार बिगड़ते चले गये।

बिगड़े हालात की जानकारी मिलते ही जिलाधिकारी सुरेन्द्र सिंह, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अखिलेश कुमार, पुलिस अधीक्षक ग्रामीण प्रद्युम्न सिंह सहित कई पुलिस अफसर व भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। मामले को लेकर खबर लिखे जाने तक हालात को काबू करने में आलाधिकारी व ग्रामीणों के बीच बातचीत का दौर चल रहा है। फिलहाल घाटमपुर-सागर राष्ट्रीय राजमार्ग पर एहतियातन पुलिस ने वाहनों की आवाजाही को बंद कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here