बेटी की शादी के लिये दो महीने का बेच डाला खाद्यान्न

0
131

18 मई । उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले में एक महिला कोटेदार ने अपनी बेटी की शादी के लिये कोटे का खाद्यान्न ही बाजार में बेच डाला। खाद्यान्न के साथ ही गरीबों को बंटने वाले केरोसिन की भी कालाबाजारी कर दी गयी। इस मामले की एफआईआर दर्ज कराने के बाद पूरे प्रकरण की जांच भी पूर्ति विभाग ने शुरू कर दी है। जिले के मौदहा क्षेत्र के बम्हरौली गांव में रामप्यारी पत्नी रामऔतार कोटेदार है।

उसे हर महीने लाखों का खाद्यान्न उपभोक्ताओं को बांटने के लिये मिलता है मगर अप्रैल व मई महीने का सारा खाद्यान्न गरीबों को न बांटकर उसने बाजार में बेच डाला। इस महिला कोटेदार ने खाद्यान्न की कालाबाजारी कर अपनी पुत्री की शादी की है। इस मामले को लेकर क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी छविनाथ ने कोटेदार के खिलाफ मुकदमा कोतवाली में दर्ज करा दिया है। मामले की जांच भी शुरू करने के साथ ही कोटा निलम्बित करने की कार्यवाही भी शुरू कर दी गयी है। जांच अधिकारियों के मांगने पर कोटेदार रामप्यारी ने बताया दामाद मनोज ही कोटा चलाता है।

दामाद विद्युत विभाग में संविदा कर्मी है। महिला कोटेदार रामप्यारी ने बताया कि कोटे का 75 कुंतल गेहूं व 75 कुंतल चावल का, राशन कार्ड धारकों को बांटने के लिये आवंटन हुआ था। सभी राशन कार्ड धारकों से पूछने के बाद बेटी की शादी की खातिर सारा खाद्यान्न व केरोसिन बाजार में बेचा गया है। यहां के जिला पूर्ति अधिकारी राम जतन यादव ने शुक्रवार को बताया कि बेटी की शादी के लिये कोटेदार रामप्यारी ने दो माह का डेढ़ सौ कुंतल खाद्यान्न और आठ सौ लीटर केरोसिन बाजार में ब्लैक कर दिया है जिसकी जांच की जा रही है। इस मामले की एफआईआर दर्ज करवा दी गयी है साथ ही महिला कोटेदार का राशन कोटा निलम्बित करने के लिये कार्यवाही शुरू कर दी गयी है। जांच में तमाम उपभोक्ताओं ने राशन न मिलने की शिकायत भी की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here