कानपुर में तूफान ने मचाई तबाही, सड़कों पर मची अफरातफरी

0
438

कानपुर, 13 मई । मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक रविवार को शाम करीब सात बजे भीषण धूल भरी आंधी और तूफान आ गया। जिसके चलते करीब एक घंटे तक शहर ठहर सा गया। जो लोग जहां पर थे वहां पर सुरक्षित स्थान को भागने लगे और वाहन वाले भी वाहन किनारे खड़ा कर अपने को सुरक्षित किया। हालांकि समाचार लिखे जाने तक किसी भी प्रकार के जानमाल की खबर नहीं मिल सकी है। तो वहीं कई जगहों पर पेड़ और बिजली के पोल जरूर गिरे हैं।
दिल्ली और एनसीआर में चली भीषण आंधी देर शाम तक कानपुर भी आ पहुंची। इस धूल भरी आंधी और जबरदस्त तूफान के आने से चारां तरफ अफरातफरी मच गई। यही नहीं बिजली की भयानक चमक व गरज से शहरवासी डर गये। खासतौर पर जो सड़कों पर थे वह तो सुरक्षित जगहों की ओर भागते नजर आये। मौसम के इस विकाराल रूप को देखते हुए बिजली विभाग ने पूरे शहर की बिजली काट दी और अंधेरें में लोग परेशान हो गये।

तूफान इस कदर भयानक था कि पूरे शहर और आसपास के इलाकों में अन्धेरा सा छा गया और सड़को पर अफरातफरी मच गई। आलम यह रहा कि वाहन चालक सड़कों पर लाइट जलाकर भी नहीं चल पा रहे थे। शहर में लगी होर्डिंग्स व बैनर टूट-टूटकर राहगीरों के ऊपर गिर रहे थे।

फूलबाग, कल्याणपुर, रावतपुर और किदवई नगर में कई जगहों पर बिजली के पोल व पेड़ भी गिर गयें। कई जगहों पर पूरी होर्डिंग्स ही भरभराकर गिर गई। हालांकि समाचार लिखे जाने तक किसी भी प्रकार के जानमाल की खबर नहीं आई है। लेकिन जिस प्रकार का मौसम रहा उससे जानमाल के नुकसान की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता।

मौसम वैज्ञानिक डा. अनिरूद्ध दुबे ने बताया कि इस तरह का मौसम अभी 16 मई तक बना रहेगा। ऐेसे में लोग सदैव सतर्क रहें, खासतौर पर सायंकाल के समय जरूर। बताया कि कम वायुदाब का क्षेत्र बनने से सांयकाल ही मौसम खराब होने की अधिक संभावना बनी हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here