कानपुर : दलितों के साथ हो रही घटनाओं पर दिया डीएम को ज्ञापन

0
126

-सभी घटनाआें में आरोपियों की गिरफ्तारी, परिजनों को मुआवजा तथा सरकारी नौकरी की मांग

कानपुर, 11 मई । जिलाधकारी को ज्ञापन देने पहुंचे भारतीय दलित पैंथर के अध्यक्ष धनीराम बौद्ध ने कहा कि आज आजादी के 70 साल बाद भी दलितों का उत्पीडन जारी है। केंद्र की या उ0प्र0 सरकार हो दलितों के यहां भोजन करने समरसता दिखाने का प्रयास कर रहे है,

लेकिन सचिन वालिया की सरेआम गोली मारकर हत्या और उनके आरोपियां का खुलेआम घूमना, सफाई विवाद में कासगंज में गोली मारना, बदायूं में गेंहू न काटने पर पीटा जाना व जूते में पेशाब डालकर पिलाना, खलनऊ के ग्राम निगोहा में नाबालिग बच्ची के साथ जबरन रेप का प्रयास और न जाने कितने ही उत्पीडन दलितों के साथ हो रहे हैं। कहा दलितों के साथ ऐसी घटनाओं के विरोध में ज्ञापन दिया जा रहा है।

धनीराम बौद्ध ने बताया कि ज्ञापन के माध्यम से मांग की जाती है कि सहारनपुर में सचिन वालिया की गोली मारकर हत्या करने वालों को जेल भेजा जाये तथा उनके परिजनों को 25 लाख रू0 व परिवर के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाये। कासगंज में सफाई विवाद में मारे गये व्यक्ति के दोषी को जेल भेजा जाये।

बदायूं में बाल्मीकि समाज के व्यक्ति को रस्सी से बांधकर पिटाई करने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार किया जाये। कहा ग्राम निगोहा में नाबालिग बच्ची के साथ रेप की कोशिश करने वाले आरोपियों को जेल भेजा जाये। ज्ञापन देने में विजय सागर एडवोकेट, राम औतार, सुशील गौतम, राहुल गौतम, मोरज ध्वज, राधेश्याम भारती, बृजेश मधुकर, रियाजुर्रहमान आदि मौजूद रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here