बेंगलुरु के खिलाफ सम्मान के लिए मैदान पर उतरेगी दिल्ली की टीम

0
78

नई दिल्ली, 11 मई । इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण के प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हो चुकी दिल्ली डेयरडेविल्स शनिवार के अपने घरेलू मैदान फिरोजशाह कोटला पर एक और संघर्षरत टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ सम्मान के लिए भिड़ेगी।

आईपीएल 11 में नये कोच और कप्तान के साथ उतरी दिल्ली की टीम की किस्मत ने इस बार भी साथ नहीं दिया। हैदराबाद के खिलाफ गुरूवार को खेले गए मुकाबले में रिषभ पंत के नाबाद शतकीय पारी (128) के बावजूद दिल्ली की टीम को हार का सामना करना पड़ा। दिल्ली पिछले 5 सालों में शीर्ष 5 में जगह बनाने में नाकाम रही थी। इस बार उसने आस्ट्रेलिया के सबसे सफल कप्तानों में से एक रिकी पोंटिंग को कोच बनाया, कोलकाता नाइटराइडर्स को दो खिताब दिलाने वाले गौतम गंभीर को कमान सौंपी, आईपीएल की नयी नीलामी में पूरी टीम बदल डाली लेकिन परिणाम जस का तस रहा और लगातार छठे वर्ष टीम का अंतिम तीन स्थानों पर बने रहना लगभग तय लग रहा है।

छह मैचों में लगातार खराब प्रदर्शन से आहत गंभीर ने बीच में ही कप्तानी छोड़ दी और श्रेयस अय्यर को कमान सौंपी गई। बावजूद इसके दिल्ली की किस्मत नहीं बदली। अय्यर के कप्तान बनने के बाद दिल्ली को दो मैचों में जीत तो मिली लेकिन बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों विभागों में उसके खिलाड़ी एक इकाई के रूप में खेलने में असफल रहे। फलस्वरूप दिल्ली प्लेआफ की दौड़ से बाहर हो गई।

दिल्ली की टीम ने आईपीएल 11 में अब तक 11 मैच खेले हैं,जिसमें से उसे तीन मे जीत और आठ मैचों में हार मिली है और वह 6 अंकों के साथ अंकतालिका में आखिरी स्थान पर है।

दूसरी तरफ विराट कोहली की अगुवाई वाली रायल चैलेंजर्स बेंगलुरू (आरसीबी) की हालत भी काफी कुछ दिल्ली की तरह ही है। बेंगलुरू को 10 मैचों में केवल तीन जीत हासिल हुई है और वह 6 अंकों के साथ सातवें स्थान पर है। आरसीबी के लिए अच्छी खबर यह है कि उसने 17 अप्रैल 2016 के बाद दिल्ली से कोई मैच नहीं गंवाया है और उसकी टीम अपने इस प्रतिद्वंद्वी पर लगातार पांचवीं जीत दर्ज करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी।

आरसीबी के लिये भी कोहली (396 रन) सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं लेकिन वह भी एबी डिविलियर्स (286), मनदीप सिंह (232) और क्विंटन डिकाक (201) की तरह टुकड़ों मं ही अच्छा प्रदर्शन कर पाये हैं। कोहली का यह घरेलू मैदान है और वह जानते हैं कि यहां उन्हें दर्शकों का भरपूर समर्थन मिलेगा। आरसीबी का कप्तान अपने प्रशंसकों को निराश नहीं करना चाहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here