कानपुर देहात:किसान ने जिलाधिकारी कार्यालय पर आत्मदाह का किया प्रयास

0
57

 

कानपुर देहात, 07 मई । डेरापुर थानाक्षेत्र में किसान को ट्रैक्टर चोरी होने पर एजेंसी द्वारा फर्जी बीमा किये जाने का खुलासा हुआ। मामले को लेकर पीड़ित ने जिलाधिकारी से लेकर मुख्यमंत्री तक से न्याय को लेकर गुहार लगाई, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। इससे आजिज किसान जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचा और मिट्टी का तेल डालकर आग लगाने का प्रयास किया। वहां उपस्थित लोगों ने उसे पकड़ लिया और अस्पताल में भर्ती कराया। 


दुड़ौली गांव में रहने वाला अजय कुमार किसान है। सोमवार को किसान जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचा और कुछ देर इधर-उधर अफसरों के दफ्तरों में जाने के बाद मिट्टी का तेल कर आत्मदाह करने लगा। तभी वहां मौजूद लोगों ने दौड़कर उसे पकड़ा और शांत कराया। इस बीच कार्यालय में तैनात पुलिस कर्मियों ने भी किसान को पकड़ते हुए आत्मदाह के कारणों के बारे में जानकारी की। पूछताछ में किसान ने बताया कि ढाई साल पूर्व 30 अक्टूबर 2015 को उसने महेंद्रा एजेंसी से एक ट्रैक्टर फाइनेंस पर खरीदा था। साढ़े तीन लाख रुपये कम्पनी ने फाइनेंस किये थे। कुछ ही समय बाद 25 दिसम्बर 2015 को ट्रैक्टर चोरी हो गया। मुकदमा दर्ज कराने पर पता चला कि एजेंसी ने फर्जी बीमा किया था, जिसकी शिकायत जिलाधिकारी से की। शिकायत करने पर एजेंसी वालों ने उसे मारा पीटा। मारपीट की शिकायत डेरापुर थाने में दी। लेकिन एजेंसी संचालक के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई और मामला सालों से लटका रहा, जिसके चलते वह कर्जदार हो गया।
पीड़ित ने बताया कि बीती 18 अप्रैल को उसने मुख्यमंत्री से शिकायत की, लेकिन समस्या का हल नहीं हुआ। समस्या निस्तारण न होने से आजिज आकर आज वहआत्मदाह करने जा रहा था। उधर मामले में पुलिस का कहना है कि फर्जी बीमा के चलते कर्जदार होने पर किसान परेशान था, जिससे उसने आत्मदाह करने जैसे कोशिश की। मामले की जांच कर कार्रवाई की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here