भाई की हत्या कर शव दफनाया,कुत्तों ने खोदकर बाहर निकाला

0
79

सीकर, 06 मई । शराब के नशेड़ी भाई की आए दिन की कलह से तंग आकर एक छोटे भाई ने अपने ही बड़े भाई की हत्या कर शव को खेत में गाड़ दिया। साढ़े पांच माह बाद मृतक के कंकाल को कुत्ते नोचते दिखे। इस पर ग्रमीणों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस व ग्रामीणों ने कपड़ो के आधार पर मृतक की पहचान सुरेश पुत्र सुगलाराम कुमावत के रूप में की। पूछताछ में पुलिस ने चौबीस घण्टे के भीतर हत्या के आरोप में मृतक के छोटे भाई दीपक पुत्र सुगलाराम कुमावत को गिरफ्तार कर लिया।


घटनाक्रम के अनुसार 20 नवम्बर की रात शराब के नशे में मृतक सुरेश कई महीनों के बाद ससुराल आई अपनी पत्नी के साथ मारपीट कर रहा था। परिजनों ने बीच बचाव व समझाईश कर उसे शांत करने का प्रयास किया लेकिन वह नहीं माना। भाई की आए दिन की कलह से तंग आकर छोटा भाई दीपक उसे रात को ही बहलाकर अपने खेत ले गया और झोपड़े में सुला कर वापस घर आ गया। 21 नवम्बर की तड़के करीब साढे तीन बजे दीपक ने वापस खेत में जाकर अपने नींद में सोए भाई सुरेश की लोहे की सांकल से गला घोंटकर हत्या कर दी और शव को खेत की सीमा में ही खड्डा खोदकर दफना घर लौट आया। मृतक सुरेश के नहीं आने पर उसकी तलाश की गई तथा रलावता निवासी उसके भाई राकेश पुत्र हरिचन्द कुमावत की ओर से करीब चार माह बाद 15 मार्च को खण्डेला पुलिस थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई।
थानाधिकारी रामकिशोर ने बताया कि शुक्रवार को सूचना पर मौके से शव को बरामद कर मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया गया। थानाधिकारी ने बताया कि आरंभिक जांच में चार माह बाद गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज होने पर परिवारजनों पर ही शक की सुई घूमी। पूछताछ में मृतक के चचेरे भाई दीपक के हावभाव से शक गहराया। थाने लाकर सख्ती से पूछताछ में उसने हत्या करना कबूल कर राग उगल दिया। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here