कानपुर : बिना पक्षपात के आपदा प्रभावित लोगों को जल्द पहुंचायें राहत : योगी आदित्यनाथ

0
358

कानपुर, 05 मई । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को तीन दिन पूर्व आये प्राकृतिक आपदा से प्रभावित जिलों का दौरा करने निकले हैं। आगरा के बाद कानपुर दौरे पर आ रहे मुख्यमंत्री को सर्वप्रथम आपदा प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करना था, लेकिन कार्यक्रम में बदलाव करते हुए उन्होंने जिला प्रशासन के अफसरों के साथ सर्किट हाउस में दैवीय आपदा की बैठक ली।


बीते दिनों आये तेज आंधी व बारिश के साथ ओलावृष्टि से सूबे समेत कानपुर जनपद भी काफी प्रभावित हुआ। इस दैवीय आपदा की चपेट में आकर जिले के चार लोगों की मौत भी हो गई थी। आपदा को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ काफी संजीदा है। इसको देखते हुए उन्होंने शनिवार को सूबे के दो मंडल मुख्यालयों का दौरा करने का निर्णय लिया। आगरा जनपद के बाद वह कानपुर आये।


यहां पर मुख्यमंत्री सबसे ज्यादा आपदा प्रभावित क्षेत्रों में महाराजपुर, घाटमपुर, बिधनू, नर्वल सहित अन्य क्षेत्रों का हवाई जायजा लेना था। इसके साथ ही आंधी,आकाशीय बिजली, ओलावृष्टि से पीड़ित लोगों से मिलकर उन्हें सरकार की ओर से हर संभव राहत देना था। मुख्यमंत्री के दौरे को देखते हुए महाराजपुर के सरसौल स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय में बकायदा प्रशासन की ओर से हैलीपैड बनाया गया है। लेकिन आगरा से निकलने में हुई देरी के चलते मुख्यमंत्री के कानपुर पहुंचने में अचानक कार्यक्रम बदल गया। उन्होंने आपदा प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण रद्द करते हुए कैंट में हैलीकाप्टर उतरने के बाद सीधे सर्किट हाउस पहुंचे। यहां पर जिला प्रशासनिक अफसरों के साथ आपदा को लेकर बैठक की। मुख्यमंत्री ने राहत कार्य को लेकर उठाये जा रहे कार्यों के बारे में जानकारी ली।
जिलाधिकारी ने क्रमवार जनपद के सभी तहसीलों में आपदा से हुए नुकसान व किसानों की स्थिति को स्पष्ट किया। मुख्यमंत्री ने उन पर तेजी से राहत पहुंचाने के निर्देश दिये। राहत कार्य में मुख्यमंत्री ने बिना पक्षपात के मुआवजा सहित सरकार व जिला प्रशासन की ओर से मिलने वाली मदद दिये जाने को कहा। मुख्यमंत्री ने मंडलायुक्त से भी मंडल में आने वाले जिलों में हुई आपदा को लेकर जानकारी ली।

बैठक के अंत में एडीजी जोन, आईजी रेंज, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से कानून व्यवस्था को दुरूस्त रखने व अपराधियों पर नकेल कसने को कहा और फिर लखनऊ के लिए रवाना हो गये। बैठक में कैबिनेट मंत्री सतीश महाना, मुकुट बिहारी वर्मा, महापौर प्रमिला पांडेय, सांसद देवेन्द्र सिंह भोले, जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र मैथानी, अनीता गुप्ता, विधायक महेश त्रिवेदी, अभिजीत सिंह सांगा आदि मौजूद रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here