चेन्नई के खिलाफ हर हाल में जीत दर्ज करना चाहेगा आरसीबी

0
111

नई दिल्ली, 04 मई । इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में शनिवार को महेन्द्र सिंह धोनी की अगुवाई वाली चेन्नई सुपर किंग्स का सामना विराट कोहली के कप्तानी वाले रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरु (आरसीबी) से होगा। इन दोनों टीमों के बीच इस लीग में एक मुकाबला हो चुका है, जिसमें चेन्नई ने पांच विकेट से जीत हासिल की थी।

आरसीबी ने पिछले मैच में मुंबई इंडियंस को 14 रन से हराया था और इस जीत के बाद आत्मविश्वास से भरे कोहली चेन्नई से मिली हार की बदला चाहेंगे। आरसीबी के लिए यह मुकाबला करो या मरो का है और प्लेऑफ की उम्मीदें बरकरार रखने के लिए उसे हर हालत में जीतना होगा। आठ मैचों में तीन जीतकर आरसीबी पांचवें स्थान पर है जबकि चेन्नई नौ में से छह मैच जीतकर दूसरे स्थान पर है।

चेन्नई की ओर से अंबाती रायुडू, ऑस्ट्रेलिया के शेन वाटसन, वेस्टइंडीज के ड्वेन ब्रावो, कप्तान धोनी और सुरेश रैना समेत चेन्नई के सभी बल्लेबाज फॉर्म में हैं, हालांकि चेन्नई को उसे पिछले तीन में से दो में हार का सामना करना पड़ा है। लेकिन चेन्नई के खिलाड़ी हार को जीत में बदलना जानते हैं।

चेन्नई के गेंदबाजों में शार्दुल ठाकुर का प्रदर्शन अच्छा रहा है, लेकिन उसे चोटिल दीपक चाहर की कमी महसूस हो रही है। ऐसे में कोहली की मौजूदगी वाले आरसीबी के बल्लेबाजी क्रम को रोकना उनके लिए बड़ी चुनौती होगी।

आरसीबी के लिए सिर्फ कोहली लगातार अच्छा खेल रहे हैं जो नौ मैचों में 349 रन बना चुके हैं। दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स ने छह मैचों में 280 रन बनाए हैं। क्विंटन डिकॉक ने आठ मैचों में 201 और ब्रेंडन मैकुलम ने पांच मैचों में 122 रन बनाए हैं।

आरसीबी की चिंता का सबब डैथ ओवरों की गेंदबाजी है जिसमें उसके गेंदबाज महंगे साबित हुए हैं। उमेश यादव ने 11 और युजवेंद्र चहल ने सात विकेट लिए हैं लेकिन मोहम्मद सिराज और वाशिंगटन सुंदर (चार विकेट ) अपेक्षाओं पर खरे नहीं उतर पाए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here