सीतापुर में आवारा कुत्तों ने दो लड़कियों और एक लड़के को नोच-नोचकर मार डाला

0
222

लखनऊ, 01 मई । उत्तर प्रदेश के सीतापुर जनपद में मंगलवार को आवारा कुत्तों ने अलग-अलग गांव के तीन बच्चों को अपना निवाला बना लिया। तीन बच्चों की मौत से ग्रामीणों में भारी रोष है। सड़क पर शवों को रखकर परिजनों के साथ तमाम लोग प्रदर्शन कर रहे हैं। मौके पर डीएम और एसपी पहुंच गए हैं। बवाल और न बढ़े, इसलिए गांवों में भारी फोर्स तैनात कर दी गई है। साथ ही आवारा कुत्तों को पकड़ने के लिए लखनऊ वन विभाग की टीम को बुलाया है।



पुलिस अधीक्षक (एसपी) सुरेश राव ए़ कुलकर्णी ने बताया कि खैराबाद के ग्राम टिकरिया निवासी कैलाशनाथ की बेटी शिवानी चौधरी (12) मंगलवार की भोर में करीब पांच बजे सहेलियों के साथ नित्यक्रिया के लिए बाग में गयी थीं। इसी दौरान आवारा कुत्तों के एक झुंड ने शिवानी पर हमला बोल दिया। उसकी सहेलियां चीखती-चिल्लाती हुई गांव के अंदर भाग आईं। सूचना मिलते ही कुछ लोग लाठी-डंडे लेकर बाग में पहुंचे। किसी तरह कुत्तों के झुंड से शिवानी को छुड़ा लिया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।


दूसरी घटना गुपलिया गांव की है। मंगलवार की सुबह करीब छह बजे आबिद अली का बेटा खालिद आम के बाग में आम बटोरने गया था। वहां कुछ आवारा कुत्ते एकदम से उस पर टूट पड़े और नोच-नोचकर बच्चे को मार डाला। जबकि पहाड़पुर कोलिया गांव के आवारा कुत्तों ने खेत जा रही कोमल (11) को नोच-नोचकर मार डाला। यद्यपि लड़की की चीख-पुकार सुनकर परिजन और कुछ ग्रामीण मौके पर पहुंच गए थे। कुत्तों को भगाकर घायल बच्ची को वे जिला अस्पताल ले गए, जहां चिकित्सकों ने कोमल को मृत घोषित कर दिया।



पुलिस के मुताबिक, मृतका इमलिया थाना क्षेत्र के कुरका गांव की कोमल अपने नाना काशी के घर पहाड़पुर आई थी। यहां उसे आवारा कुत्तों ने नोच-नोचकर मार डाला। इन तीनों घटनाओं से गुस्साए परिजनों ने शव को सड़क पर रखकर जमकर हंगामा किया। ग्रामीणों में भारी रोष है। बवाल की सूचना पाकर जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक मौके पर पहुंचे गये हैं। ऐतिहातन गांव में फोर्स तैनात कर दी गई है। साथ ही आवारा कुत्तों को पकड़ने के लिए लखनऊ से वन विभाग की टीम बुलाई गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here