कानपुर :श्रम विभाग की पहल पर विदा हुई 350 श्रमिक बेटियां 

0
306

कानपुर, 01 मई । उत्तर प्रदेश के कानपुर जनपद में मंगलवार को श्रम विभाग की पहल पर अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस पर 350 श्रमिक बेटियां विदा हुई। इनमें भारी संख्या में मुस्लिम समाज की बेटियां भी शामिल रहीं। जिले के 350 जोड़ों के हाथ थामने पर बाराती जमकर झूमे। बेटियों की विदाई होते ही उपस्थित लोगों की आंखें नम हो गई। बेटियों की विदाई के मौके पर पहुंचे कई मंत्रियों ने आशीर्वाद दिया।

श्रम विभाग ने अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस के मौके पर सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन हुआ। यहां पर कानपुर मंडल में आने वाले जिलों से 434 श्रमिकों की बेटियों के सामूहिक विवाह की व्यवस्था श्रम विभाग द्वारा किया गया था। जिनमें से सुबह के समय तक यहां पर 350 जोड़ें पहुंचे और विवाह समारोह में शामिल हुए। इसमें कानपुर नगर के 269 लाभार्थी कानपुर देहात के 80 इटावा और औरैया के 31 कन्नौज के 18 एवं फर्रुखाबाद के 16 लाभार्थी श्रमिकों की पुत्रियों का विवाह होना था। इन लाभार्थियों में 20 मुस्लिम समुदाय की बेटियां भी शामिल थीं।

समारोह की शुरूआत में श्रम विभाग के वेलफेयर हाउस से बारात उठी और गाजे-बाजे व बैंड के साथ निकली बारात में सैकड़ों बाराती नाचते हुए निकले। जिन्हें देखने के लिए भारी संख्या में सड़कों व घरों में भीड़ मौजूद रही। समारोह स्थल तक पहुंची बारात की अगवानी उप श्रमायुक्त राजेश मिश्रा समेत उपस्थित कई प्रशासनिक व श्रम विभाग के अधिकारियों द्वारा की गई। बारात की अगवानी के बाद सबसे पहले 20 मुस्लिम श्रमिक कन्याओं के निकाह कराया गया। इसके बाद बाकी की कन्याओं का हिंदू रीति-रिवाज से विवाह संपन्न हुआ। यहां पर कैबिनेट मंत्री सतीश महाना, स्वामी प्रसाद मौर्या, जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र मैथानी, अनीता गुप्ता सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here