कानपुर : युवक की हत्या में मुख्य आरोपी गिरफ्तार, दो फरार

0
196

कानपुर, 28 अप्रैल । स्वरूप नगर थानाक्षेत्र स्थित हैलट कैम्पस के अंदर हुई युवक की हत्या का मुख्य कारण शराब बनी। शराब के नशे में जानी ने अपने तीनों साथियों के साथ गाली-गलौज की, जिसके अवसाद में आकर तीनों ने मिलकर उसकी हत्या कर दी और शव को पानी के टैंक में छुपाकर भाग निकले थे।

मेडिकल कालेज कैम्पस में रहने वाली चतुर्थ श्रेणी कर्मी शकुंतला देवी के बेटे जानी की 26 अप्रैल को हैलट कैम्पस के अंदर पानी के टैंक के पास गला दबाकर हत्या कर दी गई थी। आरोपियों ने हत्या करने के बाद जानी की लाश को उसी टैंक के अंदर छिपा कर फरार हो गये थे। पुलिस ने मामले की कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी राहुल चौधरी को बीती रात गुरू गोविंद सिंह द्वार (मोतीझील) के पास घूमते हुए पकड़ लिया था।

आरोपी राहुल ने बताया कि 26 अप्रैल को शराब के नशे में जानी ने उसको फोन कर हैलट कैम्पस पानी की टंकी के पास बुलाया और शराब पीने की बात कहीं, तो उसने जानी से अपने बच्चें को आईसक्रीम देकर वापस आने की बात कही। इसी बीच जानी का नजर राहुल के पैंट में पड़ गई, जिसमें वो एक शराब की बोतल खोसे था। यह देख जानी शराब पीने की जिद करने लगा, इसी बीच दीपक ने राहुल को फोन कर दिया और पानी की टंकी के पास दोस्त अमन के साथ आ गया।

चारों लोग बैठकर शराब पीने लगे, इसी बीच जानी ने दीपक को गाली देकर जल्दी पैग बनाने को कहा। जिस बात को लेकर दोनों में विवाद होने लगा और इसी बीच जानी ने राहुल के बेटे को जान से मारने की धमकी देने लगा। इसी अवसाद में आकर राहुल ने जानी को गला दबाया और नीचे गिरानें के बाद जानी गले में पैर रखकर उसकी हत्या कर दी। उसके बाद दीपक और अमन के साथ मिलकर शव को पानी के टैंक में छुपा दिया कर फरार हो गये।

एसपी पश्चिम संजीव सुमन ने बताया कि शराब के विवाद को लेकर जानी की हत्या हुई थी और उसके बाद तीनों आरोपी घटनास्थल से फरार हो गये। पुलिस ने मोतीझील के पास से राहुल को घुमता देख पकड़ लिया और थाने ले आई। वहीं साथी दीपक और अमन की तलाश की जा रही है।

परिजनों द्वारा बताये जा रहे मुख्य आरोपी लोई को मोहल्ले के दर्जनों युवकों ने पीटा
मृतक के परिजनों के मुताबिक जानी के हत्या में फरार चल रहे मुख्य आरोपी जीतेन्द्र उर्फ लोई मेडिकल कालेज कैम्पस में बाइक से आया था। जिसकों मोहल्ले के लड़को ने पहचान लिया और उसका पीछा कर कर्डियोलाजी के पास रोककर मारने-पीटने के बाद उसको लहुलुहान हालत में थाने लेकर गये। जहां इंस्पेक्टर राजीव सिंह ने लोई को मेडिकल व उपचार के लिए हैलट अस्पताल भेज दिया।

मेडिकल कालेज में रहने वाले अकरम ने मारपीट की तहरीर दर्ज कर्रवाई है। साथ ही मुख्य आरोपी राहुल चौधरी को पकड़कर जेल भेज दिया गया है। फरार दोनों अरोपियों की तलाश में दबिशें दी जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here