पीएम मोदी:जनता कश्मीर में अलग प्रधानमंत्री बनाने वालों को सजा दें|

0
43

खरगोन|प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि लोकतंत्र में चुनाव सरकार बनाने के लिए होता है। राजनीतिक दल और उम्मीदवार आपसे अपनी-अपनी नीयत और नीति के हिसाब से वोट मांगते हैं। लेकिन 2019 का चुनाव अन्य चुनावों से भिन्न है। इस चुनाव का नेतृत्व जनता कर रही है। मेरे चुनाव अभियान की शुरुआत मेरठ से हुई थी। अब आखिरी सभा मध्य प्रदेश के खरगौन में हो रही है। ऐतिहासिक नजर से देखें तो मेरठ और खरगौन के बीच एक डोर ऐसी भी है जिस पर जिस पर अकसर ध्यान नहीं जाता। ये दोनों ही शहर 1857 के स्वतंत्रता संग्राम से जुड़े हुए हैं।
आप दशकों बाद लगातार दूसरी बार पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने वाले हैं। यह बात पीएम मोदी ने आज मध्यप्रदेश के खरगोन में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कही। इस बार आप सिर्फ एक वोट नहीं डालने वाले बल्कि एक विकसित और नए भारत की नींव डालने वाले हैं। 21वीं सदी के भारत के इन्हीं निर्माता के उत्साह का परिणाम है कि देश आज कश्मीर से कन्याकुमार और कच्छ से कामरूप पूरा देश कह रहा है- ‘अबकी बार, मोदी सरकार’। और 3-4 दिन से मैं सुन रहा हूं- अबकी बार, 300 पार। आतंकवाद और नक्सलवाद को खत्म करने की हमारी प्रतिबद्धता को भरपूर जन समर्थन मिला है। ये देश की भावना है कि आतंकियों को घर में घुसकर मारा जाए।
कांग्रेस सैनिकों से विशेषाधिकार छीनने और देशद्रोह का कानून खत्म करने जैसे विषयों को लेकर जनता के बीच गई, जिसको देश ने ठुकरा दिया है। देश इस बात पर एकमत है कि जो लोग जम्मू कश्मीर के लिए अलग प्रधानमंत्री की पैरवी कर रहे हैं, उन्हें इस चुनाव में सज़ा दी जाए। पीएम मोदी ने कहा कि मैं आपको इस बात के लिए भी आश्वस्त करता हूं कि जब तक मोदी और भाजपा है, तब तक जंगल में रहने वालों के अधिकारों को और उनकी जमीन को कोई हाथ नहीं लगा सकता।मैं हमारे जनजातीय और आदिवासी समाज का आभारी हूं कि उन्होंने कांग्रेस की सच्चाई को पूरी तरह पहचाना है और हमेशा के लिए कांग्रेस के झूठ और प्रपंच को नकार दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here