कानपुर: फाटक था खुला तभी आ गई ट्रेन, गेटमैन की सूझबूझ से टला हादसा

0
248

कानपुर। नई दिल्ली-हावड़ा रेल रूट पर झींझक रेलवे क्रासिंग पर एक बड़ा हादसा टल गया। क्रासिंग का फाटक खुलते ही कई वाहन पटरियों पर पहुंच गये। अभी वाहन क्रासिंग पर ही थे कि अचानक मालगाड़ी आ गई।

गेटमैन की सूझबूझ का परिचय देते हुए लाल झंडी दिखाकर इशारा किया और चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगाते हुए मालगाड़ी को क्रासिंग से पहले ही रोक दिया। पास आ रही मालगाड़ी को देखते ही क्रासिंग पर फंसे वाहन सवार लोगों की एक पल के लिए सांसें अटक गईं।

बुधवार पूर्वाह्न झींझक रेलवे फाटक के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लगी थी। फाटक खुला तो पहले निकलने के चक्कर में एक साथ कई वाहन पटरियों पर पहुंच गए और जाम जैसी स्थिती बन गयी। कुछ ही वाहन निकल पाये थे कि तभी अप लाइन पर दादरी मालगाड़ी आ गई।

रेल पटरियों पर फंसे वाहनों में सवार लोगों में मालगाड़ी देख अफरा तफरी मच गई। फाटक खुला होने के कारण सिग्नल लाल था और गेटमैन ने भी लाल झंडी दिखाई, इसपर चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लेकर मालगाड़ी को पहले ही रोक लिया। गेटमैन शैलेन्द्र ने पटरियों पर फंसे वाहनों को हटवाकर फाटक बंद किया।

इसके बाद मालगाड़ी को रवाना किया जा सका। झींझक स्टेशन मास्टर राजेन्द्र मीणा ने बताया कि फाटक बंद न हो पाने के कारण आठ मिनट तक मालगाड़ी खड़ी रही थी। फाटक बंद होने पर मालगाड़ी को रवाना किया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here