उन्नाव और कठुआ की घटना को गंभीरता से नहीं ले रहीं सरकारें : शिवपाल यादव

0
130

कानपुर, 15 अप्रैल । कश्मीर के कठुआ में आठ साल की निर्बोध बच्ची के साथ बलात्कार हुआ और उसकी नृशंस हत्या कर दी गई। इसी तरह उन्नाव में भाजपा विधायक व उनके साथियों द्वारा महिला के साथ बलात्कार के उपरान्त पीड़ित महिला की आवाज दबाने के लिए उसके पिता की पीट-पीट कर निर्मम हत्या कर दी गई है। दोनों घटनाओं में प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से भाजपा विधायकों का हाथ रहा।

लेकिन सब कुछ जानकारी होने के बाद भी दोनों जगहों की सरकारें गंभीर नहीं है। ऐसे में महिलाओं की सुरक्षा की बात करने वाली भारतीय जनता पार्टी की असलियत सामने आ गई। यह बातें पूर्व कैबिनेट मंत्री व समाजवादी पार्टी नेता शिवपाल सिंह यादव ने मीडिया से मुखातिब होते कहीं। उन्नाव और कठुआ में हुयी घटना को लेकर सपा नेता शिवपाल सिंह यादव ने भारतीय जनता पार्टी सरकार पर जमकर भड़ास निकाली।

कहा कि जम्मू कश्मीर सहयोगी के तौर पर और उत्तर प्रदेश में पूरी तरह से भाजपा की सरकारें हैं। आगे कहा कि कठुआ मे जिस तरह मासूम बच्ची के साथ हैवानियत का प्रदर्शन किया गया और उसके बाद आरोपियों को बचाने के लिए भाजपा के विधायक हाथ में तिरंगा लेकर सड़क पर उतर आये उससे इंसानियत और तिरंगे दोनों ने अपने आप को अपमानित महसूस किया है।

ठीक उसी प्रकार उन्नाव के भाजपा विधायक कुल्दीप सिंह सेंगर ने एक महिला से दुष्कर्म करने के बाद जिस तरह शासन-सत्ता का दुरुपयोग करते हुये दुष्कर्म पीड़ित महिला के पिता को पीट-पीटकर मार डाला उससे भी देश का सर शर्मिन्दगी से झुका दिया है। बड़े शर्म की बात है दोनों घटनाओं मे बेटी बचाओ का नारा देने वाले भाजपा के लोग परोक्ष-अपरोक्ष रुप से शामिल है। हालांकि उन्नाव मामले में कार्यवाही तो हो रही है लेकिन योगी सरकार को समझने की जरुरत है कि आगे दोषियों को पर कोई सहानुभूति न करें।

शिवपाल ने उन्नाव की घटना को दुःखद बताया और कहा कि समाज में ऐसा नहीं होना चाहिए और इस घटना में जो भी दोषी है उनके खिलाफ सरकार को सख्त कार्यवाही करनी चाहिए। बताते चलें कि शिवपाल यादव रविवार को कानपुर में कई जगहों पर हुए कार्यक्रमों में भाग लेने आए हुए थे। गांधीग्राम चकेरी आयोजित एक निजी कार्यक्रम में शिरकत करने के दौरान मीडिया से मुखातिब होते हुए भाजपा सरकार पर जमकर भड़ास निकाली और गठबंधन की वकालत की।
गठबंधन जरूर होगा कामयाब
शिवपाल यादव ने कहा कि अच्छे दिन व 15 लाख हर खाते में आने का वादा करने वाली भाजपा ने जनता को छलने के अलावा कोई काम नहीं किया है। केंद्र व सूबे की सरकार हर स्तर पर विफल है। सपा बसपा और कांग्रेस गठबंधन पर शिवपाल ने कहा कि 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में राजनीतिक दलों का जो गठबंधन होगा वह भारतीय जनता पार्टी की सरकार का सूपड़ा साफ कर देगा। गठबंधन होने से भारतीय जनता पार्टी की सरकार निश्चित रूप से हट जाएगी। कहा, गठबंधन की सरकार बनी तो जनता के अच्छे दिन जरूर आएंगे और जनता की जो भी समस्याएं है उनको गठबंधन की सरकार दूर करेगी।

शिवपाल ने कहा कि गठबंधन होने से भारतीय जनता पार्टी इस समय घबड़ायी हुयी है और यह गठबंधन केंद्र व प्रदेश से बीजेपी को हटा देगा, इसलिए यह घबड़ाये हुए है। लेकिन जब शिवपाल से पूछा गया कि गठबंधन की सरकार बनी तो प्रधानमंत्री कौन होगा इस पर चुप्पी साध गये। अपनी आगे की राजनीतिक रणनीति के बारे में उन्होंने इंतजार करने की बात कही। उन्होंने कहा कि समय के साथ सब स्पष्ट हो जाएगा। लखनऊ के चर्चित गेस्ट हाउस कांड पर कहा कि गेस्ट हाउस कांड में कुछ ऐसा हुआ ही नहीं था, सिर्फ गलतफहमी हुई थी जिसे भाजपा के लोगों ने तूल दिया था। अब सपा और बसपा का गठबंधन हो रहा है तो भाजपा के लोग गठबंधन से डरकर इस मामले को उठा रहें है। शिवपाल के बदले स्वर से एक बात तो साफ हो गई कि गठबंधन तो होगा ही और जल्द ही राजनीतिक परिदृश्य में उनकी भूमिका देखने को मिल सकती है।

बताते चलें कि इससे पहले विधानसभा चुनाव के दौरान से लेकर अब तक जितनी बार शिवपाल कानपुर आये तो ज्यादातर अखिलेश यादव उनके निशाने पर होते थे। लेकिन अब अखिलेश यादव तो दूर गठबंधन की वकालत करते हुए पूरी तरह से दिखे। इसके साथ ही मायावती के प्रति नरमी बरतते हुए कहा कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उन्हे सदैव सम्मान दिया है। इसीलिए गोरखपुर और फूलपुर में बसपा ने सपा का साथ दिया और सपा की जीत हुई। कहा कि अखिलेश यादव जो राजनीतिक रणनीति बना रहें हैं उससे प्रदेश की जनता का हित ही होना है।
ध्वस्त हो गई कानून व्यवस्था
शिवपाल यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था चौपट हो चुकी है। उन्नाव कांड जैसे संवेदनशील मामले पर हाईकोर्ट के संज्ञान लेने के बाद सरकार की नींद टूटी। प्रदेश की जनता मौजूदा सरकार की कार्य व्यवस्था से बहुत त्रस्त है। कहा कि प्रदेश में वही हो रहा है जो योगी सरकार में होना था।

आरोप लगाया कि प्रदेश की योगी सरकार कहती है कि अपराधियों पर अपराधियों जैसे सलूक पुलिस कर रही है और आए दिन इनकांउटर हो रहें हैं, पर उन्नाव की घटना से एनकाउंटर का सच सामने आ गया। कहा कि भाजपा सरकार महिलाओं और दलितों के हितैषी बनने के लिए ऐसा ढोंग कर रही है कि जनता कुछ न समझ पाये। लेकिन देश की जनता अब इनकी सभी चालें अच्छी तरह से समझ चुकी है। जनता जिसका जवाब आगामी लोकसभा चुनाव में अपने मत के जरिये ऐसे अपराधियों को संरक्षण देने वाली सरकार को देगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here