हेलीकॉप्टर उड़ानः 48 लोगों ने किया रोहतांग दर्रा आर-पार

0
18

केलांग|लाहौल घाटी में शुक्रवार को भी दूसरे दिन खराब मौसम के बावजूद सेना के हैलीकॉप्टर ने फंसे यात्रियों और मरीजों को कुल्लू पहुंचाने का काम जारी रखा। सेना के हैलीकॉप्टर के पायलट की दरियादिली और लाहौल-स्पीति प्रशासन के विशेष आग्रह पर पायलट ने शुक्रवार को लाहौल के लिए उड़ान भरी और किशोरी गांव की लक्वाग्रस्त महिला राम नंदी (62) को तिंदी और ङ्क्षतगरेट से लाए यात्रियों के साथ उदयपुर से भुंतर हवाई अड्डे पर पहुंचाया। पहली उड़ान में 1 मरीज और 2 बच्चों समेत 48 यात्री रोहतांग के आर-पार हुए। दूसरी उड़ान भी लाहौल के लिए भरी गई लेकिन रोहतांग में घने बादल होने के कारण हैलीकॉप्टर को वापस भुंतर लौटना पड़ा।
वीरवार को ईंधन की कमी के कारण स्तींगरी हैलीपैड में फंसा सेना का चौपर सुरक्षित भुंतर पहुंच गया। घाटी के भीतर सभी संपर्क सड़कें बंद होने के कारण मरीजों को हैलीपैडों तक पहुंचाने में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। पूर्व विधायक रवि ठाकुर ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि वह सीमा सड़क संगठन और लोक निर्माण विभाग को घाटी के भीतर सड़कें खोलने के तुरंत निर्देश दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here