कानपुर : वॉटर लाइन फटने से नई सड़क क्षेत्र हुआ जलमग्न, धसी सड़क पर यातायात बंद

0
218

कानपुर, 14 अप्रैल । जेएनएनयूआरएम योजना के तहत जल निगम द्वारा पानी की राइजिंग लाइन डाली गई है। शनिवार को जैसे ही नई सड़क पर भूमिगत राइजिंग लाइन की जैसे ही टेस्टिंग की गई, पानी के प्रेशर से लाइन फट गइ और जमीन के नीचे से निकले पानी ने सड़कें, दुकानें व घरों को जलमग्न कर दिया। जानकारी पर जलापूर्ति बंद करते हुए धड़ी सड़क पर वाहनों की आवाजाही रोक दी गई।

दरअसल जल निगम द्वार शहरवासियों को बेहतर पेयजल उपलब्ध कराने के लिए भूमिगत राइजिंग वॉटर लाइन डाली गई है। लाइन की टेस्टिंग के लिए आज जैसे ही पानी की सप्लाई की गई, वैसे ही नई सड़क पर फहीम मार्केट के सामने भूमिगत लाइन फट गई। पानी की भूमिगत लाइन फटने से इलाके में तेज प्रशेर से पानी निकलने लगा और कुछ ही मिनटों में क्षेत्र में दुकानों व घरों में पानी भरने के साथ ही सड़कें जलमग्न हो गई।

पानी भरता देख परेशान क्षेत्रीय लोगों ने जलकल व जल निगम के टेस्टिंग में लाइन फटने की जानकारी अफसरों को दी। जानकारी मिलते ही अफसरों ने जलापूर्ति बंद करायी और कर्मियों को मौके पर जाकर मरम्मत कार्य करने के निर्देश दिये। पानी की लाइन फटने के चलते एक तरफ की सड़क धंस गई। जिस पर चलना जोखिम भरा देखते हुए पुलिस ने सड़क पर बैरीकेटिंग लगाकर वाहनों के लिए यातायात बंद कर दिया। लाइन फटने से इलाके में भरे पानी की जानकारी मिलते ही क्षेत्रीय पार्षद मोनू गुप्ता पहुंचे।

उन्होंने कहा, जल निगम द्वारा गंगा बैराज की मैन वाटर लाइन टेस्टिंग के दौरान नई सड़क पर फट गई। इसकी जानकारी जल निगम अफसरों दिये जाने के बावजूद कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं आया। पार्षद ने आरोप लगाया कि शहर में डाली की राइजिंग वॉटर लाइन में विभागीय अफसरों ने जमकर घालमेल किया। जिसके चलते ही कई साल पूर्व डाली गई लाइन की शुरूआत नहीं की जा सकी और टेस्टिंग में ही हर बार लाइन फट जाती है। कई जगहों पर जर्जर पाइप डालने से दूषित पेयजल आने की शिकायतें भी आ रही है। जलकल विभाग द्वारा जल्द से जल्द लाइन दुरूस्त कराने का आश्वासन दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here