ISL : एफसी गोवा को हराकर अपनी उम्मीदें जिंदा रखना चाहेगा एटीके

0
91

नई दिल्ली|प्लेऑफ की रेस में संघर्ष कर रही एटीके होरी इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन के एक अहम मुकाबले में आज यहां जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में एफसी गोवा से भिड़ेगी। दो बार की चैम्पियन को प्लेऑफ में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखने के लिए हर मैच में जीत दर्ज करनी होगी। स्टीव कोपेल की टीम को यह दिमाग में रखकर गोवा से भिड़ना होगा कि इस सीजन में उसने 15 मैचो में इतने ही गोल खाए हैं और उसका डिफेंसिव रिकार्ड संयुक्त रूप से सबसे अच्छा रहा है। एटीके अभी 21 अंकों के साथ छठे स्थान पर है। उसके आगे जाने की संभावना है लेकिन इसके लिए उसे एक टीम के रूप में खेलते हुए अपने बाकी के सभी मैच जीतने होंगे।
इस सीजन में दोनों टीमों के बीच जब अंतिम बार भिड़ंत हुई थी तो कोई गोल नहीं हो सका था। अब अगर वही परिणाम फिर सामने आता है तो इससे किसी को फायदा नहीं होगा। पांचवें सीजन में सबसे अधिक गोल करने वाली गोवा की टीम को हर हाल में एटीके के डिफेंस को भेदकर तीन अंक हासिल करने होंगे। एटीके को अपने पिछले मैच में एफसी पुणे सिटी से 2-2 से ड्रॉ खेलना पड़ा था। इस टीम ने अंतिम मिनटों में बराबरी का गोल खाया था। बीते तीन मैचों में इस टीम ने अंतिम पलों में गोल खाए हैं और यह इसके लिए चिंता का सबब है। गोवा को उसके घर में हराने के लिए मैनुएल लेंजारोते और इदु बेदिया की जोड़ी को कमाल करना होगा।
यह जोड़़ी कोलकाता में जमशेदपुर के खिलाफ काफी घातक साबित हुई थी लेकिन बीते मैच में यह जोड़ी कोई कमाल नहीं कर सकी। इसके अतिरिक्त लेंजोरोतो अपनी पूर्व टीम के खिलाफ भी अच्छा करने के लिए बेताब होंगे। गोवा के कोच सर्गियो लोबेरा मानते हैं कि लेंजारोते से बड़ा खतरा गार्सिया हो सकते हैं। बीते सीजन में लोबेरा की टीम ने जमशेदपुर के प्लेऑफ में जाने की उम्मीदों पर पानी फेरा था और इस समय कोपेल जमशेदपुर के कोच थे। अब वह एटीके के कोच हैं और दो बार की चैम्पियन टीम की भी वही स्थिति है। अब देखने वाली बात यह है कि गोवा को हराकर एटीके इस दोराहे को पार कर पाती है या फिर घर वापसी करती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here