कानपुर :सिटी मजिस्ट्रेट के अगवाई में ढहाये गये गंगा किनारे अवैध कब्जे

0
390

कानपुर, 07 अप्रैल। गंगा किनारे अवैध रूप से मकान बनाकर रह रहे लोगों को सरकारी आवास उपलब्ध होने के बाद न हटने पर नगर निगम का बुलडोजर गरजा। अतिक्रमणकारियों के खिलाफ नमामि गंगे परियोजना के तहत बुलडोजर ने अवैध कब्जा कर बने घरों को ढहा दिया और जमीन खाली कराई।
अतिक्रमण अभियान प्रभारी सिटी मजिस्ट्रेट आर. एन. पाण्डेय ने बताया कि सरसैया घाट स्थित गंगा किनारे गन्दगी फैलाने वालों और अवैध रूप से अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ अभियान चलाया गया है। इन सभी अतिक्रमणकारियों को पूर्व में सरकारी आवास मिल चुके हैं, लेकिन यह लोग अवैध अतिक्रमण नहीं हटा रहे थे।

जिसके खिलाफ शनिवार को अभियान चलाकर अतिक्रमण हटाया गया है। वहीं अतिक्रमण अभियान के दौरान अपना आशियाना टूटने पर महिला सुमन देवी ने बताया कि वह लोग सालों से परिवार के साथ रह रही थी। यहां तक की वह यही पैदा हुई। अब अचानक उनको वहां से हटवाकर जंगल में बनी कालोनी में जबरन भेजा जा रहा है। इसी तरह महिला संतोषी देवी ने कहा, जहां हमें आवास दिये जा रहे हैं वहां कोई भी मूलभूत सुविधायें नहीं है। ऐसे में हम वहां परिवार के साथ कैसे रहेंगे।


सिटी मजिस्ट्रेट ने बताया कि आवास मिलने के बाद भी कुछ लोग अनाधिकृत रूप से कब्जा कर रह रहे थे। जिन्हें नगर निगम अतिक्रमण टीम व बुलडोजर के जरिये कब्जों को तोड़कर जगह खाली कराई गई है। हालांकि इस दौरान कुछ अतिक्रमणकारियों ने विरोध किया तो मौके पर मौजूद पुलिस फोर्स ने बल पूर्वक उन्हें हटाते हुए कब्जे गिरवाये।
बताते चलें कि, यह कार्यवाही नमामि गंगे परियोजना को मूर्त रूप देने व अवैध कब्जेदारों द्वारा गंगा में गंदगी फैलाने से रोकने के लिये की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here