कानपुर :अंतर्राज्यीय वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश, चोरी के वाहनों समेत सात गिरफ्तार

0
777

कानपुर, 05 अप्रैल । आईजी रेंज की क्राइम ब्रांच व एसएसपी की स्वाट टीम के साथ नवाबगंज थाना पुलिस ने अंतर्राज्यीय वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने गिरोह के सात शातिर अभियुक्तों को गिरफ्तार करते हुए चोरी के एक करोड़ कीमत के चौपहिया व दोपहिया वाहन बरामद किये हैं। गिरोह का सरगना सिर्फ मोबाइल से ही पूरे गैंग का संचालन कर रहा था और गैंग में वाहन चोरी करने वालों से लेकर वाहन काटने वाले शातिरों के अलावा आरटीओ के दलालो से मिलकर वाहनों का नया रजिस्ट्रेशन कराने वाले सदस्य तक शामिल है।
डिमांड के आधार पर वाहनों की चोरी करवाने वाले गैंग की तलाश पुलिस को लंबे समय से थी। एसएसपी के आदेश के बाद थाना प्रभारी नवाबगंज के नेतृत्व में वाहन चोर गिरोह को पकड़ने के लिए पुलिस के साथ ही आईजी की क्राइम ब्रांच व स्वाट टीम लगातार गैंग की तलाश में जुटे हुए थे। इसी बीच सुराग हाथ लगते ही गंगा बैराज के पास से पुलिस की टीम ने शातिर वाहन चोरों के गैंग लीडर सहित 7 सदस्यों को गिरफ्तार किया। आरोपियों के पास से पुलिस ने तकरीबन एक करोड़ के 18 बड़े छोटे वाहन बरामद किये है । एसएसपी अखिलेश कुमार ने गुरूवार को प्रेस कांफ्रेंस के दौरान बताया कि ये बेहद ही शातिर गैंग है। गैंग का मुखिया सिर्फ फोन से ही पूरे गैंग का संचालन करता है।

गैंग के सदस्य ऑन डिमांड छोटे बड़े वाहनों की चोरी करते थे। मतलब ग्राहक को कौन सी गाड़ी चाहि,सिर्फ ये बताने पर दो दिनों के भीतर वहीं गाड़ी ग्राहक को उपल्बध करा दी जाती थी। पकड़े गए गैंग के सदस्यों में वाहन चोरी करने वालों से लेकर चोरी के वाहन को पहुंचाने वाले औऱ चोरी के वाहन को काटने वाले सदस्यों के अलावा वाहनों की चेचिस नंबर डाई से बदल कर आरटीओ ऑफिस के दलालों के जरिए नया रजिस्ट्रेशन कराने वाले सदस्य तक शामिल है।

एसएसपी ने बताया कि फतेहपुर बकेवर निवासी इनामिया अशोक शर्मा की पत्नी सीमा ने घरेलू हिंसा की शिकायत की थी। पुलिस ने मामले की जांच की। तहकीकात के दौरान पता चला कि अशोक के वाहन चोर गिरोह से संबंध हैं। यह बात पता चलने पर पुलिस टीम ने अशोक शर्मा को हिरासत में ले लिया। अशोक की निशानदेही पर गोपीगंज भदोही निवासी राजीव सिंह,बीडीसी मेंबर संजय बिंद, कृष्णमोहन, महोली संतकबीर नगर निवासी शिव यादव, फूलपुर के लालचंद्र यादव और कमरिया भदोही के रुद्रेश को गिरफ्तार किया। आरोपियों के पास से दस महिंद्रा बुलेरो, 2 मारुती स्विफ्ट डिजायर, 5 रायल एनफील्ड बुलेट और एक टीवीएस अपाचे समेत कुल 18 वाहन बरामद किये गए है। एसएसपी ने खुलासा करने वाली टीम को 25 हजार का पुरस्कार देने की घोषणा की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here